Tuesday - 30 November 2021 - 9:38 PM

…तो क्या पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा और अमरिंदर सिंह पर जांच होगी?

जुबिली न्यूज डेस्क

पंजाब में एक बार फिर सियासी सरगर्मी बढ़ गई है। पाकिस्तानी पत्रकार अरूसा आलम को लेकर पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की मुश्किलें बढ़ रही हैं।

दरअसल पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने शुक्रवार को पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की दोस्त अरूसा आलम के पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से संबंधों को लेकर जांच के आदेश दे दिए।

अरूसा आलम पाकिस्तानी पत्रकार हैं जो रक्षा संबंधी मामले कवर करती हैं।

इससे पहले भी अरूसा आलम का मामला उठता रहा है लेकिन इस बार जांच के आदेश आने के बाद रंधावा और अमरिंदर सिंह के बीच ट्विटर पर बहस छिड़ गई।

यह भी पढ़ें : बेकाबू हुई तेल की कीमत, बालाघाट में पेट्रोल 118 रुपये पार, मुंबई में डीजल पहुंचा 104

यह भी पढ़ें : अब तवांग में बढ़ रहा भारत-चीन के बीच तनाव

कैप्टन के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने अपने ट्विटर हैंडल पर कैप्टन अमरिंदर सिंह के हवाले से ट्वीट किया।

उन्होंने डिप्टी सीएम रंधावा के लिए लिखा, “तो अब आप व्यक्तिगत हमलों का सहारा ले रहे हैं। पद संभालने के एक महीने बाद आपके पास लोगों को दिखाने के लिए सिर्फ यही है। बरगाडी और ड्रग मामलों को लेकर आपके बड़े-बड़े वादों का क्या हुआ? पंजाब उन वादों के पूरा होने का इंतजार कर रहा है।”

कैप्टन ने कहा, “मेरी कैबिनेट में आप मंत्री थे। आपने कभी अरूसा आलम को लेकर शिकायत नहीं की। वह 16 सालों से भारत सरकार से मंज़ूरी लेकर आ रही हैं। या आप ये आरोप लगा रहे हैं कि इस दौरान एनडीए और कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार की आईएसआई से मिलीभगत थी।”

यह भी पढ़ें :  मंत्री नवाब मलिक के वसूली वाले आरोपों पर समीर वानखेड़े ने क्या कहा?

यह भी पढ़ें :  ताइवान पर चीन ने हमला किया तो क्या करेगा अमेरिका?

कैप्टन ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और अरूसा आलम की हाथ मिलाते हुए एक पुरानी तस्वीर भी पोस्ट की।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की सुरक्षा की कीमत पर पंजाब पुलिस को इस आधारहीन जांच में लगाया जा रहा है।

उन्होंने ट्वीट किया, “मुझे इस बात की चिंता है कि जब आतंकवाद का खतरा अधिक है और त्योहार नजदीक हैं तब कानून और व्यवस्था बनाए रखने पर ध्यान देने की बजाय आपने पंजाब की सुरक्षा की कीमत पर डीजीपी को आधारहीन जांच में लगा दिया है।”

ये बहस यहीं नहीं रूकी। डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा ने भी चार ट्वीट करके कैप्टन को जवाब दिया।

रंधावा ने पूछा, क्यों परेशान हैं आप?

उप मुख्यमंत्री रंधावा ने लिखा, “मैं एक सच्चा राष्ट्रवादी हूं और आप बेहतर जानते हैं कि किस बिंदु से हमारे मतभेद पैदा हुए थे। आपको कानून और व्यवस्था के लिए चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि मौजूदा सरकार ने पंजाब सरकार को किसी बाहरी के हवाले नहीं किया है। अब पुलिस लोगों की सुरक्षा कर रही है, चीकू और सीताफल की नहीं।”

रंधावा ने लिखा, “वैसे सर, आप अरूसा और आईएसआई लिंक को लेकर पेरशान क्यूं हैं? उनका वीजा किसने प्रायोजित किया और उनसे जुड़ी हर चीज की पूरी जांच की जाएगी। मुझे उम्मीद है कि संबंधित सभी लोग जांच में पुलिस का सहयोग करेंगे।”

सुखजिंदर सिंह पंजाब कांग्रेस के उन नेताओं में शामिल हैं, जिन्होंने पार्टी के चुनावी वादों को पूरा करने को लेकर अमरिंदर सिंह के नेतृत्व पर अविश्वास जताया था।

यह भी पढ़ें :  कांग्रेस को अब इस राज्य में लगा झटका, कार्यकारी अध्यक्ष ने छोड़ी पार्टी

यह भी पढ़ें : RSS ने भाजपा को विधानसभा चुनाव जीतने के लिए क्या सलाह दी?

रंधावा के इस ट्वीट पर अमरिंदर सिंह के जवाब दिया, “क्या आपने इतने सालों में मुझे कभी परेशान देखा है? बल्कि आप परेशान और उलझन में लग रहे हैं। आप इस तथाकथित जांच को लेकर अपना मन क्यों नहीं बना लेते? जहां तक अरूसा का वीजा प्रायोजित करने की बात है तो बिल्कुल पिछले 16 सालों से मैं ऐसा कर रहा हूं। ऐसे वीजा के लिए भारतीय उच्चायोग को अनुरोध भेजे जाते हैं, जिन्हें पहले रॉ और आईबी से मंज़ूरी दी जाती है। इस मामले में हर बार यही हुआ है।”

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com