Tuesday - 20 October 2020 - 5:29 AM

जुबिली डिबेट

डंके की चोट पर : कमलनाथ के आइटम से क्यों कुम्हलाने लगा कमल

शबाहत हुसैन विजेता इमरती देवी को आइटम कहे जाने पर महिलाओं के सम्मान में बीजेपी एक बार फिर मैदान में आ गई है. मौन की गूँज मुखर होने लगी है. इमरती देवी खुद भी आंसू बहा रही हैं और आंसुओं की इस रसधार को वोटों में बदलने की पुरजोर कोशिश …

Read More »

जरूरत से ज्यादा अन्न भंडार फिर भी भुखमरी

जुबिली न्यूज डेस्क ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2020 रिपोर्ट जारी हो गई है। 107 देशों के लिए की गई रैंकिंग में भारत 94 पायदान पर आया है। विडंबना है, भारत में जो अन्न भंडार हैं, धान और गेहूं, हमारी जरूरत से कहीं ज्यादा हैं। बावजूद देश में इतना अन्न होने के …

Read More »

असम : डिटेंशन सेंटर के बाद मदरसों पर वार

जुबिली न्यूज़ डेस्क नई दिल्ली. असम में सरकारी मदद से चलने वाले मदरसे और संस्कृत केन्द्र बंद करने का फैसला किया गया है. इन शिक्षण संस्थानों को बंद करने के पीछे सरकार की स्पष्ट मंशा है कि सरकारी खर्च पर धार्मिक शिक्षा क्यों दिलाई जाए. सरकार अपना फैसला कर चुकी …

Read More »

नजरबंदी में रहकर भी नहीं सुधरे फारुख अब्दुल्ला

कृष्णमोहन झा मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करने का साहसिक और ऐतिहासिक फैसला जिन दिन किया था उसके पहले ही उसने यह अनुमान लगा लिया था कि नेशनल कांफ्रेंस के मुखिया फारुख अब्दुल्ला ,उनके बेटे उमर अब्दुल्ला …

Read More »

डंके की चोट पर : इज्जत टीआरपी में नहीं खबर की सच्चाई में है

शबाहत हुसैन विजेता लाईट, कैमरा, एक्शन. ग्लैमर से भरे हैं यह तीन लफ्ज़. इन तीन लफ़्ज़ों में इतना खिंचाव है कि नयी उम्र के लोग अपना घर छोड़कर मुम्बई भाग जाते थे. फिल्मों का ग्लैमर घर में मिलने वाली मोहब्बत से भी बड़ा होता था. फिल्मों जैसा ग्लैमर ही पत्रकारिता …

Read More »

डोनाल्ड ट्रंप की झूठ बोलने की आदत, कोरोनावायरस और बेरोजगारी है अमरीकी चुनाव का मुद्दा

शेष नारायण सिंह अमरीकी राष्ट्रपति के चुनाव में राष्ट्रपति के डिबेट का बड़ा महत्व होता है। उपराष्ट्रपति पद के डिबेट का उतना महत्व नहीं माना जाता लेकिन इस बार पूरे देश का ध्यान उपराष्ट्रपति के डिबेट पर भी था। शायद इसका कारण यह है कि राष्ट्रपति के पद के दोनों …

Read More »

अब अतीत की कड़वी यादों को बिसराने पर विचार करें

कृष्ण मोहन झा 6 दिसंबर 1992को अयोध्या में बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराए जाने की जो घटना हुई थी उससे जुडे मुकदमे में सीबीआई की विशेष अदालत ने सभी 32 आरोपियों को बाइज्जत बरी कर दिया है। यह फैसला उक्त घटना के 28 साल बाद आया है। इस मामले में …

Read More »

कोटा : कोचिंग का हब या आत्महत्याओं का ?

प्रीति सिंह अक्सर जब हाईस्कूल-इंटरमीडियट का परिणाम घोषित होने वाला रहता है तब सोशल मीडिया पर एक कॉमन पोस्ट दिखती है कि हार में ही जीत छिपी होती है। इसलिए परीक्षा परिणाम को लेकर छात्र परेशान न हो। अभिभावकों के लिए भी कुछ संदेश दिया जाता है। ऐसा ही संदेश …

Read More »

डंके की चोट पर : बेबस चीत्कार में बदल गए काका हाथरसी के ठहाके

शबाहत हुसैन विजेता हाथरस जिसे काका हाथरसी के ठहाकों से पहचाना जाता था. आज गैंगरेप से बदनाम हो रहा है. आज पुलिस की ज्यादती से पहचाना जा रहा है. कोई हाथरस का नाम भी लेता है तो पुलिस से घिरी एक चिता उभरती है. एक ऐसी चिता जिसे आधी रात …

Read More »

हाथरस काण्ड : वो कौन से राज़ हैं जिनकी पर्देदारी है

शबाहत हुसैन विजेता लखनऊ. बड़ी संख्या में पुलिस है, फायर ब्रिगेड की गाड़ियाँ हैं, एम्बुलेंस हैं, बैरीकेडिंग है, प्रशासन के आला अफसर हैं. बावजूद इसके भयमुक्त समाज की भावना दम तोड़ रही है. हालात ऐसे दोराहे पर खड़े हैं जिसमें न विपक्ष उस बैरीकेडिंग को पार कर सकता है न …

Read More »
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com