Sunday - 27 November 2022 - 8:20 AM

खुफिया रिपोर्ट में सिद्धू की जान को बताया गया था खतरा, फिर भी सुरक्षा में की गई कटौती

जुबिली न्यूज डेस्क

पंजाबी गायक से राजनेता बने सिद्धू मूसेवाला की रविवार रात पंजाब के मानसा जिले में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

भगवंत मान सरकार द्वारा मूसेवाला की सुरक्षा वापस लिए जाने के एक ही दिन बाद यह घटना हुई। सिद्धू की हत्या से ठीक एक दिन पहले उनकी सुरक्षा आधी कर दी गई थी, जबकि आईबी ने अपनी खुफिया रिपोर्ट में कहा गया था कि गैंगस्टरों और प्रतिद्वंद्वियों से उनकी जान को खतरा था।

दरअसल बहुत सारे पंजाबी गायक और आर्टिस्ट गैंगस्टर की हिट लिस्ट में हैं। हाल के महीनों में इन गैंगस्टरों द्वारा फिरौती वसूलने के मामलों में कथित तौर पर वृद्धि हुई है।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस से राज्यसभा का टिकट न मिलने पर बोले पवन खेड़ा, शायद मेरी तपस्या में कुछ…

यह भी पढ़ें : IPL का नया सरताज बना टाइटंस, रॉयल्स को 7 विकेट से चटाई धूल

यह भी पढ़ें : शरीयत में दखलंदाजी बर्दाश्त नहीं करेंगे मुसलमान

पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री के सूत्रों और पंजाब पुलिस के मुताबिक, बीते दो महीनों में कम से कम 6 गायकों और अभिनेताओं ने 10-10 लाख रुपये की ‘सुरक्षा राशि’ का भुगतान किया है।

ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, सिद्धू धमूसेवाला ने ऐसी कोई सीधी शिकायत नहीं की थी जिसमें उन्हें नई धमकियां मिली हों, लेकिन इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) की एक रिपोर्ट में उन्हें गैंगस्टरों की हिट लिस्ट में शीर्ष पंजाबी कलाकारों में शामिल किया गया था।

रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब पुलिस ने शनिवार को गायक की सुरक्षा आधी कर दी थी और इंडियन रिजर्व बटालियन (आईआरबी) के चार में से दो पुलिसकर्मियों को हटा लिया था।

यह भी पढ़ें :  जातीय जनगणना को लेकर बिहार में क्या बन रहा प्लान?

यह भी पढ़ें :  कथा वाचिका ने संत पर लगाए ऐसे इल्जाम की संत समाज में मच गया हड़कम्प

यह भी पढ़ें :  इधर सुरक्षा वापस ली उधर बदमाशों ने पंजाबी गायक सिद्धू को मौत की नींद सुला दी

पंजाब पुलिस ने सिद्धू मूसेवाला समेत 424 लोगों की सुरक्षा शनिवार को वापस ले ली थी। मूसेवाला उन 424 लोगों में शामिल थे जिनकी सुरक्षा पुलिस ने यह कहते हुए काट दी थी कि यह (फैसला) उनकी धमकी की धारणा (थ्रेट परसेप्शन) की एक नई समीक्षा के बाद किया गया था।

पुलिस ने किया बचाव

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद पंजाब के डीजीपी वीके भवरा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, ” 424 व्यक्तियों की सुरक्षा में कटौती एक अस्थायी उपाय था।”

भवरा ने कहा कि सिद्धू मूसेवाला के साथ पंजाब पुलिस के चार कमांडो तैनात थे। उन्होंने कहा कि हर साल ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी और अगले महीने ‘‘घल्लुघारा सप्ताह’’ के कारण सुरक्षा ‘‘कम की जाती’’ है। मूसेवाला के साथ तैनात पंजाब पुलिस के चार कमांडो में से दो को हटाया गया था।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com