Sunday - 27 November 2022 - 8:48 AM

ईवीएम को लेकर अखिलेश के आरोपों पर चुनाव आयोग ने क्या कहा?

जुबिली न्यूज डेस्क

वाराणसी में  कल देर रात तक ईवीएम को लेकर हाई वोल्टेज ड्रामा चला। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और ओमप्रकाश राजभर ने मोर्चा खोल दिया।

पहडिय़ा मंडी स्थित मतगणना स्थल पर ईवीएम में फेरबदल का आरोप लगाते हुए समाजवादी पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा कर दिया।

सपा कार्यकर्ताओं ने ईवीएम लेकर मतगणना स्थल से बाहर निकले एक वाहन को रोक लिया और उस EVM की जांच की मांग के साथ धरने पर बैठ गए।

उनका आरोप था कि शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र के ईवीएम में फेरबदल किया जा रहा है पर इसकी सच्चाई अलग निकली।

वहीं जिला निर्वाचन अधिकारी कौशलराज शर्मा ने सपा कार्यकर्ताओं के आरोप को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि EVM में फेरबदल की बात कोरी अफवाह है। बुधवार को ईवीएम मतगणना कार्मिकों के प्रशिक्षण के लिए ले जाई जा रही थी।

दरअसल बुधवार को यूपी कॉलेज परिसर में मतगणना कार्मिकों का प्रशिक्षण होना है। इसके लिए शाम पांच बजे बिना उपयोग की गई ईवीएम पहडिय़ा से यूपी कॉलेज भेजी जा रही थी। दो वाहनों से ईवीएम भेजी जा चुकी थी।

इस बीच ये खबर मिलने पर सपा कार्यकर्ता पहडिय़ा मंडी के गेट पर पहुंचे और ईवीएम लदे एक वाहन को रोक लिया। सूचना मिलने पर प्रशासनिक व पुलिस अफसरों के साथ भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई।

अफसरों ने सपा कार्यकर्ताओं को समझाने का भरपूर प्रयास किया मगर वे धरना खत्म करने को तैयार नहीं हुए। सपा के महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा ने पूरे प्रकरण की राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को जानकारी दी।

समय बीतने के साथ ही धरनास्थल पर सपा कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ती जा रही थी। वहीं इस मामले को लेकर सपा मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर मतगणना में धांधली की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें : चीनी विदेश मंत्री ने कहा- चीन और भारत को प्रतिद्वंद्वी की बजाय पार्टनर बनना चाहिए

यह भी पढ़ें :  एक्जिट पोल में भाजपा की जीत दिखाने पर अखिलेश यादव ने क्या कहा? 

यह भी पढ़ें :   …तो इस मामले में सबसे आगे रहीं प्रियंका और मायावती सबसे पीछे 

ट्विटर पर उन्होंने लिखा- ‘वाराणसी में ईवीएम पकड़े जाने का समाचार उप्र की हर विधानसभा को चौकन्ना रहने का संदेश दे रहा है। मतगणना में धांधली की कोशिश को नाकाम करने के लिए सपा-गठबंधन के सभी प्रत्याशी और समर्थक अपने-अपने कैमरों के साथ तैयार रहें। युवा लोकतंत्र व भविष्य की रक्षा के लिए मतगणना में सिपाही बने!’

यह भी पढ़ें : रूस के इस शर्त की वजह से तेल की कीमतों में लगी आग

यह भी पढ़ें : ‘मुझे कहा गया चुप रहोगे तो राष्ट्रपति बन जाओगे’

वहीं जिला निर्वाचन अधिकारी कौशलराज शर्मा ने बताया कि मंडी में स्थित अलग गोदाम से प्रशिक्षण के लिए ईवीएम यूपी कॉलेज जा रही थी। कुछ नेताओं ने वाहन को रोक कर उसे चुनाव में प्रयुक्त ईवीएम कह कर अफवाह फैलाया है। बुधवार को काउंटिंग ड्यूटी में लगे कर्मचारियों की दूसरी ट्रेनिंग है।

उन्होंने कहा कि हैंड्स ऑन ट्रेनिंग के लिए ये मशीन ट्रेनिंग में हमेशा प्रयुक्त होती हैं। जो ईवीएम चुनाव में प्रयुक्त हुई थीं, वे सब स्ट्रांग रूम में सीआरपीएफ की निगरानी में बंद हैं। उनकी सीसीटीवी से भी निगरानी हो रही है जिसे सभी राजनैतिक दलों के लोग देख रहे हैं।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com