Sunday - 29 January 2023 - 4:48 AM

चीनी विदेश मंत्री ने कहा- चीन और भारत को प्रतिद्वंद्वी की बजाय पार्टनर बनना चाहिए

जुबिली न्यूज डेस्क

पिछले कुछ समय से भारत और चीन के रिश्तों में तल्खी बढ़ गई है। एलएसी पर उपजे विवाद के बाद रिश्ते और भी कड़वाहट आ गई है।

वहीं अब चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा है कि भारत और चीन के संबंधों में बीते कुछ सालों के अंदर “मुश्किलें” आई हैं। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि चीन और भारत को एक-दूसरे की ऊर्जा बर्बाद करने के बजाय आपस में लक्ष्य पूरे करने में मदद करनी चाहिए।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने सालाना प्रेस ब्रीफिंग के दौरान ये बात मानी की भारत और चीन के संबंधों में हाल के वर्षों में “मुश्किलें” आई हैं।

विदेश मंत्री ने इशारों में अमेरिका पर निशाना साधते हुए ये भी कहा कि कुछ ताकतों ने चीन और भारत के बीच फूट डालने की कोशिश की है।

वांग यी ने कहा, “चीन और भारत को प्रतिद्वंद्वी की बजाय पार्टनर बनना चाहिए।”

उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि दोनों देशों को आपसी विचार-विमर्श के जरिए सीमा विवाद को निष्पक्ष तरीके से सुलझाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : रूस के इस शर्त की वजह से तेल की कीमतों में लगी आग

यह भी पढ़ें : ‘मुझे कहा गया चुप रहोगे तो राष्ट्रपति बन जाओगे’  

यह भी पढ़ें :   चीन के वुहान में फिर लौटा कोरोना

यह भी पढ़ें :  आम लोगों को निकलने देने के लिए हमले रोकेगा रूस

बीते महीने विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा था कि भारत और चीन के संबंध फिलहाल “मुश्किल दौर” से गुजर रहे हैं।

उन्होंने ये भी कहा कि इसकी वजह चीन की ओर से लिखित समझौतों का उल्लंघन करना है।

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख की सीमा पर 15 जून 2020 को तनाव बढ़ा था। उस वक्त दोनों देशों की सेना के बीच हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान मारे गए थे।

यह भी पढ़ें :  कुत्ते के भौंकने से नाराज़ सिपाही ने दी उसे दर्दनाक मौत

यह भी पढ़ें :  गुरुग्राम में धर्म को हथियार बनाकर माहौल बिगाड़ने की कोशिश

वहीं, चीन ने आधिकारिक तौर पर अपने मरने वाले जवानों की संख्या नहीं बताई। हालांकि, कुछ रिपोर्ट में दावा किया गया इस हिंसा में चीन के करीब 38 सैनिकों की मौत हुई थी।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com