Saturday - 17 April 2021 - 4:30 AM

यूपी: चौंकाने वाले मामले सामने आए, लखनऊ ने डराया

जुबिली न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 संक्रमित 39 और लोगों की मौत हो गई तथा 8490 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई। जबकि लखनऊ का हाल काफी बुरा रहा है, यहां आज 2369 नए मामले आये हैं।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों में राज्य में कोविड-19 संक्रमित 39 और मरीजों की मौत हो गई, साथ ही राज्य में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 9003 हो गई है।

ये भी पढ़े: काशी विश्वनाथ- ज्ञानवापी परिसर को लेकर कोर्ट ने किया बड़ा फैसला

ये भी पढ़े: फ्री में देखना है आईपीएल मैच तो कर लीजिये ये काम

File Photo

उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कुल 8490 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। उन्होंने बताया कि राज्य में अब तक 654404 लोग अब तक संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि इनमें से 606063 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

प्रसाद ने बताया कि राज्य में इस वक्त 39338 मरीज उपचाराधीन हैं। इनमें से 50% मामले सिर्फ चार जिलों लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर से हैं। उन्होंने बताया कि बुधवार को राज्य में दो लाख से ज्यादा नमूनों की जांच की गई है।

ये भी पढ़े: सीबीएसई : बोर्ड परीक्षाएं रद्द कराना चाहते हैं छात्र

ये भी पढ़े: मकान में बना रहे थे पटाखा, हुआ ब्लास्ट और चली गयी 5 मजदूरों की जान

उन्होंने बताया कि कल प्रदेश में 2,04,878 सैंपल की जांच की गई। अब तक 3,61,47,340 सैंपल की जांच की गई है। अब तक 66,88,260 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी जा चुकी है। 11,79,437 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज़ दी जा चुकी है।

यूपी के इन शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान

यूपी में लखनऊ, वाराणसी, कानपुर और प्रयागराज के बाद अब चार और शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। दिल्ली से सटे यूपी के दो जिलों गौतम बुद्ध नगर और गाजियाबाद के अलावा मेरठ व बरेली में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर गुरुवार से 17 अप्रैल तक रात्रि कर्फ्यू लगाने की घोषणा की गई है।

इसके अलावा 500 से ज्यादा केस वाले या रोजाना 100 से ज्यादा नए केस वाले पांच जिलों में भी नाइट कर्फ्यू लग सकता है। इनमें गोरखपुर, झांसी, आगरा, सहारनपुर और मुरादाबाद जिले शामिल हैं।

Image

ये भी पढ़े: प्रियंका ने कहा गलत आंकड़े दे रही है योगी सरकार

ये भी पढ़े: क्या उत्तराखंड की बढ़ती गर्मी बनी जंगलों में लगी आग का सबब?

13 जिलों में तैनात हुए नोडल अफसर

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के रोजाना 100 मरीज या 500 एक्टिव केस वाले 13 जिलों में योगी सरकार ने एक-एक नोडल अधिकारी तैनात कर दिया है। ये सभी नोडल अधिकारी 15 दिनों तक जिले में प्रवास कर जिलाधिकारी के साथ मिलकर कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाएंगे।

यह नोडल अधिकारी मरीजों के उपचार और कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी निर्णय अपने स्तर पर लेंगे और उसे लागू करवाएंगे। गुरुवार को 13 नोडल अधिकारियों की तैनाती के आदेश कार्मिक विभाग की ओर से जारी कर दिए गए है। जिनकी निगरानी मुख्यमंत्री कार्यालय करेगा।

अपर मुख्य सचिव मुकुल सिंघल ने बताया कि विपिन कुमार जैन, विशेष सचिव, नगर विकास को लखनऊ का नोडल अधिकारी बनाया गया है। इस तरह अंजनी कुमार सिंह, निदेशक, राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद को कानपुर नगर का, आलोक सिंह, अपर निदेशक सूडा को प्रयागराज का, अमनदीप हुली, अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी, ग्रेटर नोएडा को गाजियाबाद का, रवींद्र सिंह अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी, यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण को गौतमबुद्ध नगर का नोडल अधिकारी बनाया गया है।

इस तरह संदीप कुमार, मुख्य कार्यपालक अधिकारी भदोही को वाराणसी का, प्रवीण मिश्रा, मुख्य कार्यपालक अधिकारी को मेरठ का, पवन अग्रवाल, मुख्य कार्यपालक अधिकारी को गोरखपुर का, अनिल कुमार सिंह, विशेष सचिव, गृह तथा कारागार प्रशासन एवं सुधार विभाग को झांसी का, अरविंद कुमार चौहान, सचिव को आगरा का, मनोज कुमार-द्वितीय, निदेशक, कृषि विपणन एवं कृषि विदेश व्यापार विभाग को सहारनपुर का, मनोज कुमार, विशेष सचिव, उच्च शिक्षा विभाग को बरेली, डॉ. इंद्रमणि त्रिपाठी, विशेष सचिव, नगर विकास विभाग को मुरादाबाद का नोडल अधिकारी बनाया गया है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com