Saturday - 18 September 2021 - 1:15 PM

UP चुनाव : अल्पसंख्यक समुदाय को रिझाने के लिए BJP ने बनाया नया प्लॉन

जुबिली स्पेशल डेस्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल विधान सभा चुनाव होना है। ऐसे में बीजेपी दोबारा सत्ता में वापसी का सपना देख रही है। हालांकि उसकी राह उतनी आसान नहीं है। दरअसल बीजेपी को रोकने के लिए अखिलेश यादव लगातार अपने संगठन को मजबूत करने में लगे हुए है।

दूसरी ओर बीजेपी की बात की जाये तो उसके लिए भी बड़ी दोबारा सत्ता हासिल करना एक बड़ी चुनौती है। हालांकि बीजेपी 2022 के लिए एक अलग प्लॉन पर काम कर रही है।

जनता के हर वर्ग पर बीजेपी की पैनी नजर है। इसके लिए उसने खास तैयारी शुरू की है। दरअसल बीजेपी जनता के और करीब पहुंचने के लिए कई तरह के कार्यक्रम और सम्मेलनों का आयोजन हर जिलों में कर रही है ताकि उसे चुनाव में इसका बड़ा फायदा पहुंच सके।

अब जानकारी मिल रही है कि अल्पसंख्यक समुदाय को अपने पाले में करने के लिए बीजेपी ने एक खाका तैयार किया है। इसके तहत उसकी कोशिश होगी किसी तरह से अल्पसंख्यक समुदाय को अपनी ओर लाया जाये।

पार्टी ने इसके लिए लक्ष्य तय कर लिए है। बीजेपी से मिली जानकारी के अनुसार हर विधान सभा क्षेत्र में पांच हजार अल्पसंख्यकों में अपनी उपस्थिति बीजेपी दर्ज कराने की तैयारी है।

बताया जा रहा है कि इसको लेकर बीजेपी का अल्पसंख्यक मोर्चा पूरा रोडमैप तैयार कर रहा है। इसको लेकर दो प्रभारी की बहुत जल्द बीजेपी नियुक्त कर सकती है।

यह भी पढ़े : बंगाल में भाजपा को बड़ा झटका दे सकती हैं ममता 

यह भी पढ़े : अफगानिस्तान में पाक के दखल से भड़के नागरिक, ISI चीफ का हो रहा विरोध

यह भी पढ़े : चिराग से बंगला खाली करने के लिए कहा गया तो लगवा दी पिता की मूर्ति

बीजेपी ने अल्पसंख्यकों को लेकर जो रोडमैप तैयार किया उसके अनुसार बीजेपी की कोशिश है कि 1 करोड़ से अधिक अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों के बीच पहुुंचा जा सके।

बीजेपी से जुड़े सूत्र बता रहे हैं कि राज्य में कार्यकताओं को इसकी जिम्मेदारी दी जा सकती है। इसके तहत एक विधानसभा सीटों पर 50 कार्यकर्ताओं अल्पसंख्यक समाज से बात करेंगे और अल्पसंख्यक वोटरों को अपने पाले में करने की कोशिश करेंगे।

यह भी पढ़े : तालिबान की ताजपोशी में शामिल होंगे रूस, चीन समेत ये 6 देश

यह भी पढ़े :  कोई है ऐसा आदमी

यह भी पढ़े :   …तो फिर रहाणे के क्रिकेट करियर पर लग सकता है फुल स्टॉप

बता दें कि यूपी में दो दर्जन ऐसे जिले हैं जहां 20 से 60 फीसदी तक मुस्लिम आबादी होने की बात कही जा रही है। ऐसे में इनको अपने पाले में लाना कोई आसान काम नहीं होगा। बताया जा रहा है कि इस माह में सितंबर के अंत में होगी बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा की लखनऊ में बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा की कार्यसमिति की बैठक होगी और पूरा रोड मैप पर चर्चा होगी।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com