Saturday - 19 September 2020 - 8:55 PM

सुशांत सिंह राजपूत : सीबीआई जांच को तैयार हुई केंद्र सरकार

जुबिली न्यूज डेस्क

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या का मामला पिछले कई दिनों से सुर्खियों में हैं। मामले की जांच को लेकर बिहार व मुंबई पुलिस आमने-सामने हैं। मुंबई पुलिस को मात देने के लिए बीते दिनों बिहार सरकार ने केंद्र सरकार से आत्महत्या की सीबीआई जांच की मांग की थी, जिस पर केंद्र सरकार तैयार हो गई है।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने ये जानकारी शीर्ष अदालत के दी है। बिहार पुलिस की जांच को चुनौती देने वाली रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है। जस्टिस ह्रषिकेश रॉय इस मामले की सुनवाई कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  5 अगस्त अब राममंदिर संघर्ष यात्रा की अंतिम तारीख

यह भी पढ़ें :  जम्मू-कश्मीर : ‘विशेष दर्जा’ हटने का एक साल

यह भी पढ़ें :  कौन हैं राहुल मोदी ?

रिया चक्रवर्ती ने अपनी याचिका में बिहार में शुरू की गई जांच को चुनौती देते हुए मुंबई में जांच कराने की अपील की है।

मालूम हो कि पिछले दिनों सुशांत सिंह के पिता केके सिंह ने पटना पुलिस में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया था। उन्होंने रिया के खिलाफ एफआईआर में पैसा ऐंठने और आत्महत्या के लिए उकसाने की बात कही है।

14 जून को सुशांत सिंह राजपूत अपने मुंबई स्थित घर पर मृत पाए गए थे। मुंबई पुलिस इस मामले को आत्महत्या मान कर जांच कर रही है।

मुंबई पुलिस ने इस मामले में रिया चक्रवर्ती समेत बॉलीवुड की कई नामचीन हस्तियों से पूछताछ की है। इनमें महेश भट्ट से लेकर संजय लीला भंसाली तक शामिल हैं। हालांकि शुरु से मुंबई पुलिस की जांच सवालों के घेरे में है।

एक दिन पहले ही बिहार सरकार ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच सीबीआई को सौंपने की सिफारिश की थी।

हालांकि महाराष्ट्र सरकार पहले ही सीबीआई से जांच कराने की मांग को ठुकरा चुकी है।

क्या हुआ कोर्ट में

जस्टिस ह्रषिकेश रॉय ने कहा- एक प्रतिभाशाली अभिनेता की दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थिति में मौत हो गई। कोर्ट इस मामले में महाराष्ट्र सरकार का पक्ष जानना चाहता है।

जस्टिस रॉय ने महाराष्ट्र पुलिस ने हलफनामा दायर कर ये बताने को कहा है कि उन्होंने जांच में प्रोफेशनल तरीके से काम किया है।

साथ ही शीर्ष अदालत ने बिहार के पुलिस अधिकारी को क्वारंटीन करने के लिए मुंबई पुलिस की आलोचना की और कहा कि ये सही संदेश नहीं देता है।

रिया चक्रवर्ती के वकील श्याम दीवान ने कहा कि वे चाहते हैं कि बिहार में कराई गई एफआईआर मुंबई ट्रांसफर हो, लेकिन सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील विकास सिंह ने इसका विरोध किया।

यह भी पढ़ें : बेरूत विस्‍फोट: 73 लोगों की मौत, 3700 से ज्‍यादा लोग घायल

यह भी पढ़ें :  अयोध्या : भूमि पूजन आज, अयोध्या से लेकर अमरीका तक उल्लास

यह भी पढ़ें :  राममय हुई अयोध्या, जानिये भूमि पूजन से जुड़ी खास बातें 

बिहार व मुंबई पुलिस आमने-सामने

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच को लेकर मुंबई पुलिस और बिहार पुलिस आमने-सामने है। दोनों एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं।

बिहार पुलिस जब इस मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंचीं, तो एक नया विवाद शुरू हो गया। इस मामले की जाँच के लिए मुंबई पहुंचे बिहार पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटीन कर दिया गया है। इस पर बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे ने कड़ी आपत्ति जताई।

सुशांत सिंह राजपूत के परिजनों ने मुंबई पुलिस पर आरोप लगाए हैं कि मुंबई पुलिस इस मामले की ठीक से जांच नहीं कर रही है। सुशांत सिंह के पिता ने ये भी आरोप लगाया था कि उन्होंने फरवरी में भी मुंबई पुलिस को ये सूचना दी थी कि सुशांत की जान को खतरा है।

इस पर मुंबई पुलिस ने सोमवार को एक प्रेस रिलीज जारी कर ये कहा कि सुशांत के बहनोई ने मुंबई पुलिस के अधिकारी को वॉट्स ऐप पर जानकारी दी थी, लेकिन उन्होंने इस बारे में लिखित शिकायत नहीं की और कहा कि वे अनौपचारिक रूप से ऐसा कह रहे हैं।

लेकिन मुंबई पुलिस ने ये स्पष्ट कर दिया था कि बिना लिखित शिकायत के जांच नहीं हो सकती।

इस मामले में पिछले दिनों रिया चक्रवर्ती ने ट्वीट कर गृह मंत्री अमित शाह से सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई से कराने की मांग की थी। उन्होंने लिखा था- सर, मैं सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्ऱेंड हूं। सुशांत की मौत के एक महीने गुजऱ गए. मुझे सरकार में पूरा भरोसा है। मैं चाहती हूं कि इस मामले में इंसाफ सुनिश्चित हो, इसलिए इसकी जांच सीबीआई से कराई जाए। मैं बस ये जानना चाहती हूं कि सुशांत ने किस दबाव में इतना बड़ा कदम उठाया।

यह भी पढ़ें : रूस की कोरोना वैक्सीन पर डब्ल्यूएचओ को क्यों है संदेह?

यह भी पढ़ें :  अब WhatsApp चुटकियों में पकड़ सकेगा Fake News 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com