Thursday - 29 September 2022 - 11:11 AM

बॉल पर थूक लगाना बंद, वाइड को लेकर भी हुआ बदलाव, जानिए क्रिकेट के क्या हैं नए नियम

जुबिली न्यूज डेस्क

मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने बुधवार यानी आज इंटरनेशनल क्रिकेट के नियमों में संशोधन का ऐलान किया। नये नियमों के मुताबिक, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंद पर थूक के इस्तेमाल को अब गेंद से छेड़छाड़ माना जाएगा, जबकि मांकडिंग को ऑफिशियल (आधिकारिक तौर पर) रन आउट माना जाएगा।

ये कानून एक अक्टूबर 2022 के बाद लागू किए जाएंगे। इसका मतलब है कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप से पहले क्रिकेट के नये नियम बदल जाएंगे।

जहां क्रिकेट बॉल पर सलाइवा (थूक) का इस्तेमाल करना हमेशा के लिए बैन हो गया है, वहीं कैच को लेकर भी नियम बदले हैं।

अब अगर कोई कैच होती है, तब उसके बाद जो भी नया बल्लेबाज क्रीज पर आएगा वही बैटिंग करेगा। पहले यह नियम था कि अगर बल्लेबाज कैच के दौरान एंड चेंज कर लेते हैं तो पुराना बल्लेबाज भी बैटिंग कर सकता था।

इसके अलावा अगर मैदान पर कोई व्यक्ति या जानवर एंट्री कर लेता है, तो उसको डेड बॉल ही घोषित कर दिया जाएगा। पहले ऐसा होने पर खेल होता रहता था या फिर उसे कुछ देर के लिए रोक दिया जाता था।

नये नियमों के अनुसार, अगर फील्डिंग टीम का कोई फील्डर खेल के दौरान तय फील्डिंग से अलग जगह जाता है और व्यवधान पैदा करता है तो पहले उसे डेड बॉल घोषित कर दी जाती थी, लेकिन अब फील्डिंग टीम को ऐसा करना भारी पड़ेगा, क्योंकि ऐसा करने पर 5 रनों की पेनाल्टी लगाई जाएगी।

दरअसल कोरोना काल की वजह से बॉल पर सलाइवा लगाना बंद कर दिया था। अब इस नियम को हमेशा के लिए स्थायी बना दिया गया है। यानी क्रिकेट बॉल को चमकाने के लिए थूक का इस्तेमाल नहीं होगा, बल्कि पसीने का ही इस्तेमाल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :  आईटी का रॉबर्ट वाड्रा पर आरोप, कहा-11 साल में छिपाई 106 करोड़ की आय

यह भी पढ़ें :  अमेरिका और ब्रिटेन ने रूस के खिलाफ उठाया ये बड़ा कदम

यह भी पढ़ें :  ईवीएम को लेकर अखिलेश के आरोपों पर चुनाव आयोग ने क्या कहा?

वहीं दूसरे अन्य नियमों में, अगर बॉल पिच से बाहर लैंड करती है, अब अगर कोई बल्लेबाज शॉट खेलेगा तो उसका या बल्ले का कुछ हिस्सा पिच पर रहना जरूरी है।

अगर ऐसा नहीं होता है, तब अंपायर के पास इसे डेड बॉल घोषित करने का अधिकार होगा। इसके अलावा अगर कोई भी बॉल बल्लेबाज को पिच से बाहर निकलने के लिए मजबूर करती है, तो वह भी नो बॉल होगी।

यह भी पढ़ें : रूस के इस शर्त की वजह से तेल की कीमतों में लगी आग

यह भी पढ़ें : ‘मुझे कहा गया चुप रहोगे तो राष्ट्रपति बन जाओगे’ 

यह भी पढ़ें :   चीन के वुहान में फिर लौटा कोरोना

वाइड को लेकर भी चीजें अब बदल गई हैं। बल्लेबाज अगर कोई इनोवेटिव शॉट खेलने के लिए अपने स्टांस में बदलाव करता है और बॉलर उसका पीछा करने के लिए बॉल इधर-उधर डालता है, तो बल्लेबाज की पॉजिशन के हिसाब से ही वाइड नापी जाएगी, ना कि स्टम्प की दूरी के हिसाब से।

वहीं यदि कोई बॉलर गेंद फेंकने से पहले ही स्ट्राइक पर मौजूद बल्लेबाज को रन आउट करने की कोशिश करता है, तब यह डेड बॉल घोषित कर दी जाएगी, ऐसा बहुत कम होता है इसलिए पहले इसे नो बॉल माना जाता था।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com