Saturday - 31 July 2021 - 11:01 PM

शिवसेना ने पूछा-‘पेगासस का बाप कौन?’

जुबिली न्यूज डेस्क

पेगासस जासूसी कांड को लेकर भारत में बवाल मचा हुआ है। संसद से लेकर सोशल मीडिया पर हंगामा मचा हुआ है। संसद के मानसून सत्र के पहले और दूसरे दिन संसद में इसको लेकर विपक्षी दलों ने जमकर हंगामा किया।

अब पेगासस मामले को लेकर महाराष्ट्र में सत्ताधारी पार्टी शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’  के संपादीकय में मोदी सरकार पर हमला बोला है।

सामना में ‘पेगासस का बाप कौन?’  शीर्षक से लिखे इस संपादकीय में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के उस बयान पर भी निशाना साधा गया है, जिसमें उन्होंने पेगासस जासूसी वाली रिपोर्ट ‘अंतरराष्ट्रीय साजिश’ बताया था।

यह भी पढ़ें :  भारत में कोरोना काल में एक लाख से अधिक बच्चों के सिर से उठा मां-बाप का साया 

यह भी पढ़ें :  अमेरिकी रिपोर्ट में दावा, भारत में कोरोना से करीब 50 लाख मौतें 

यह भी पढ़ें : मौतों की संख्या में बड़ा उछाल, 24 घंटे में 3998 लोगों की कोरोना से मौत 

शिवसेना ने अपने संपादकीय में लिखा है, “‘देश और लोकतंत्र को बदनाम करने की यह अंतर्राष्ट्रीय साजिश है!’ गृहमंत्री द्वारा ऐसा बयान दिया जाना आश्चर्यजनक है। देश को बदनाम निश्चित तौर पर कौन कर रहा है, यह श्रीमान गृहमंत्री बता सकते हैं क्या? सरकार आपकी, देश और लोकतंत्र आपका, फिर ये सब करने की हिम्मत किसमें निर्माण हुई?”

यह भी पढ़ें :कर्नाटक : नेतृत्व परिवर्तन की चर्चाओं के बीच बीजेपी अध्यक्ष का ऑडियो वायरल

यह भी पढ़ें : कैडबरी की चॉकलेट में बीफ की क्या है सच्चाई?   

भारत और इसराइल के रिश्तों पर तंज

संपादकीय में जासूसी के जरिए पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव को प्रभावित करने की आशंका जताई गई है।

दरअसल इसराइल की कंपनी एनएसओ के बनाए स्पाईवेयर पेगासस के निशाने पर रहे लोगों की लिस्ट में बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का भी नाम है।

सामना ने अपने संपादकीय में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत और इसराइल के सम्बन्धों पर भी कटाक्ष किया गया है।

यह भी पढ़ें : Corona की दूसरी लहर में क्या Oxygen की कमी से नहीं हुई एक भी मौत

यह भी पढ़ें : IND vs SL : भारत ने श्रीलंका के जबड़े से छीनी जीत

संपादकीय में कहा गया है, “इसराइल हिंदुस्तान का मित्र देश है, ऐसा हम मानते थे। प्रधानमंत्री मोदी के दौर में यह मित्रता कुछ अधिक मजबूत हुई।”

शिवसेना ने पेगासस जासूसी मामले की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेसीपी) से कराने की भी मांग की है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com