Wednesday - 1 April 2020 - 11:20 PM

सैनिटाइजर नहीं साबुन से भी हो जाएगा कोरोना का खात्मा

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। महामारी की तरह फैला कोरोना वायरस (COVID-19) चीन के बाद ईरान, इटली, अमेरिका और भारत सहित दुनिया भर के कई देशों में हौले-हौले पैर पसार ही चुका है। इस वायरस से संक्रमित लोग कम समय में ही मौत के मुंह में समाते जा रहे हैं। चीन में जहां हजारों की तादाद में लोगों की जान गई हैं वहीं भारत में इससे अब तक दो मौतें हो चुकी हैं।

वहीं 100 से ज्यादा लोग संक्रमित बताए जा रहे हैं। कोरोना वायरस का अभी तक कोई इलाज सामने नहीं आया है। डॉक्टरों ने बचाव को ही इसका इलाज बताया है। वायरस से बचने के लिए बार- बार हाथ धोने को कहा जा रहा हैं। इसमें साबुन और सैनिटाइजर से हाथ धोने पर बहस छिड़ गई है।

ये भी पढ़े: जानिए क्यों अमिताभ ने संडे दर्शन को किया स्थगित

ये भी पढ़े: IPL पर दादा बना रहे नया प्लान

सोशल मीडिया पर कुछ मैसेज वायरल हो रहे हैं जिसमें सवाल पूछा जा है कि क्या इतना खतरनाक और जानलेवा वायरस मामूली साबुन से मर जाएगा? क्या साबुन से हाथ धोने पर कोरोना वायरस के किटाणु मर सकते हैं? क्या कोरोना को जड़ से खत्म करने के लिए कोई भी आम साबुन से हाथ धो सकते हैं? फेसबुक ट्विटर पर वायरल हो रही पोस्ट में एक ही सवाल पूछा जा रहा है?

दरअसल कोरोना वायरस के चर्चा में आने के बाद से ही अधिकतर डॉक्टर्स सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं। कोरोना का एक तरह का फ्लू ही है और अभी तक इसका कोई इलाज सामने नहीं आया है। ऐसे में वायरस से संक्रमित न होने के लिए साफ सफाई, मास्क और हाथ धोने की बात कही जा रही है।

सैनिटाइजर का समय- समय पर प्रयोग करने की सलाह दी जा रही है। हाथों को अच्छी तरह धोने और संक्रमित लोगों से हाथ न मिलाने की चेतावनी दी जा रही है। ऐसे में कुछ लोग साबुन से हाथ धोने पर वायरस मर जाएगा जैसे सवाल उठा रहे हैं?

ये भी पढ़े: …तो यूपी में कोरोना वायरस जेल भी पहुंचा सकता है

अब सवाल ये उठता है कि लोगों की शंका सही है, इतना जानलेवा वायरस किसी भी आम साबुन से मर जाएगा। तो हम आपको बता दें कि साबुन विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी साबुन से हाथ धोने पर वायरस के खात्मे की बात कही है।

WHO के हैंडवाशिंग दिशा-निर्देशों के अनुसार, साबुन और पानी का इस्तेमाल कोरोनो वायरस को मारने के लिए प्रभावी और आसान है। COVID-19 वायरस की सरंचना के आधार पर उसके खात्मे के लिए डबल्यूएचओ ने पानी और साबुन के इस्तेमाल को जरूरी बताया है।

रोजाना इस्तेमाल में लाए जाने वाले आम साबुन के अलावा एल्कोहल युक्त साबुन और बैक्टिया को मारने के लिए डिटॉल जैसे साबुन का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। ये साबुन वायरस की संरचना को नष्ट कर देते हैं, जिससे वो वहीं खत्म हो जाता है।

WHO के हैंडवाशिंग दिशा- निर्देशों के अनुसार हम ये कह सकते हैं कि, साधारण साबुन और पानी से सही ढंग से हाथ धोने पर वायरस को खत्म किया जा सकता है। किसी विशेष साबुन, हैंड सैनिटाइजर या एंटी-बैक्टीरियल प्रोडक्ट की भी जरूरत नहीं है। गंभीर समस्या होने पर परिवार को तुरंत डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

ये भी पढ़े: सिंधिया समर्थक विधायकों ने वीडियो जारी कर जताई खतरे की आशंका

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com