Saturday - 4 February 2023 - 3:22 PM

चुनाव से पहले डोनाल्‍ड ट्रंप को मिला एक और तमगा

सुरेंद्र दुबे

आखिर अमेरिका ने आईएसआईएस के सरगना अबु अल बकर बगदादी को उसकी ही धरती पर मार गिराया। अमेरिका ने एक बार फिर सिद्ध कर दिया कि उसका कोई भी दुश्‍मन, कहीं भी किसी देश में हो, अमेरिका उसे खत्‍म करके ही दम लेता है। आईएसआईएस दुनिया का एक ऐसा आतंकवादी संगठन है, जिसकी पहले कभी कल्‍पना भी नहीं की जा सकती थी।

बगदादी का मारा जाना जितनी बड़ी घटना है, उतने बड़े स्‍तर पर दुनिया में अमेरिका की प्रशंसा नहीं हुई। शायद इसके पीछे कारण ये हो कि दुनिया के कई मुल्‍कों को अमेरिका द्वारा अपनी दादागिरी सिद्ध करना पसंद न आया हो।

बगदादी जितना बड़ा आतंकी था और दुनिया के लिए जितना बड़ा खतरा था, उसे अमेरिका जैसा कोई शक्तिशाली राष्‍ट्र ही मार गिरा सकता था। जिस बहादुरी से अमेरिका ने इस कारनामे को अंजाम दिया उससे दुनिया काफी राहत महसूस कर रही है।

हाल के वर्षों में अमेरिका ने तीन बड़े कारनामे किए। इन तीनों कारनामों में गुफा जरूर हर जगह नजर आई। जब इराक के पूर्व राष्‍ट्रपति सद्दाम हुसैन को अमेरिकी फौजों ने जा दबोचा। तब वह एक गुफा में ही छुपा हुआ था। उस समय अमेरिका के राष्‍ट्रपति जार्ज डब्‍लू बुश थे। दूसरी घटना ओसामा बिन लादेन की है, जहां वह पाकिस्‍तानी सेना के मुख्‍यालय के साथ बने एक गुफानुमा महल में छिपा हुआ था।

तब अमेरिका के सील कमांडरों ने उसे उसकी गुफा में ही मार गिराया था। उस समय अमेरिका के राष्‍ट्रपति बराक ओबामा थे। बगदादी को भी सीरिया में एक गुफा में ही दौड़ा कर मार गिराया। इस तीसरी घटना के समय अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप हैं।

एक इत्‍तेफाख और है कि ये तीनों घटनाएं अमेरिकी राष्‍ट्रपति के चुनाव के पूर्व वर्ष में हुई। बगदादी का खात्‍मा भी ऐसे समय हुआ है जब अमेरिका में अगले साल राष्‍ट्रपति के चुनाव होने वाले हैं। यानी कि राष्‍ट्रपति ट्रंप अपनी उपलब्धियों में बगदादी के खात्‍मे का भी बखान करेंगे।

सोने पर सुहागा ये रहा कि अमेरिका ने अबू बकर अल बगदादी के संभावित उत्तराधिकारी अल-मुहाजिर को भी एयरस्‍ट्राइक में मार गिराया, जिससे आईएसआईएस की कमर पूरी तरह से टूट गई है और अब इस संगठन का भी वहीं हश्र हो सकता है जो ओसामा बिन लादेन के अल कायदा संगठन का हुआ था। उस संगठन का आज कहीं अता-पता नहीं है। कुछ वैसी ही दुर्गति आईएसआईएस संगठन की हो सकती है। अगर ऐसा होता है तो यह आतंकवाद के सफाए की दिशा में एक निर्णायक कदम साबित हो सकता है।

इराक के पूर्व राष्‍ट्रपति सद्दाम हुसैन आतंकी भले न थे, पर उनकी गिनती दुनिया के क्रूर शासकों में थी। शायद यही वजह थी कि अमेरिका ने कमांडो कार्रवाई में सद्दाम हुसैन को मार गिराने के बजाए पहले गिरफ्तार किया था और बाद में मुकदमें का नाटक करके फांसी पर चढ़ा दिया था। उस समय बहुत से राष्‍ट्रों ने अमेरिका की इस कार्रवाई की निंदा की थी। पर दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्‍क अमेरिका ने उस समय ही दुनिया को ये बता दिया था कि दुश्‍मन कहीं भी अमेरिका उसके खात्‍मे की ताकत रखता है।

ओसामा बिन लादेन जिसे पाकिस्‍तानी सेना ही अपनी गोद में छिपाए बैठी थी, उसको भी अमेरिका ने अपने सील कमांडो के जरिए पाकिस्‍तान के एबटाबाद में ही मार गिराया था। इस घटना के बाद से ही अमेरिका और पाकिस्‍तान के रिश्‍ते तल्‍ख हो गए और उसने भारत का पक्ष लेना शुरू कर दिया। अमेरिका के वर्ल्‍ड ट्रेड सेंटर में भारी तबाही के लिए जिम्‍मेदार ओसामा बिन लादेन का पाकिस्‍तान में छिपा होना अमेरिका को कतई नहीं पसंद आया था, जिसकी सजा अब पाकिस्‍तान भुगत रहा। अमेरिका यूं ही भारत के पक्ष में नहीं खड़ा हुआ है।

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने स्‍वयं दुनिया को बताया कि आईएसआईएस चीफ बगदादी उत्तर पश्चिमी सीरिया में इडलिब में हुए एक ऑपरेशन में मारा गया है। इस ऑपरेशन में अमेरिकी सेना ने खूंखार कुत्‍तों का भी इस्‍तेमाल हुआ। बगदादी के तीनों पुत्र भी इस ऑपरेशन में मारे गए। ये कार्रवाई अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन के सफाए से ज्‍यादा साहसिक थी, इसलिए राष्‍ट्रपति के चुनाव में डोनाल्‍ड ट्रंप को अपनी पीठ थपथपाने का एक बड़ा तमगा साबित हो सकता है।

(लेखक वरिष्‍ठ पत्रकार हैं, लेख उनके निजी विचार हैं)

ये भी पढ़े: रस्‍सी जल गई पर ऐठन नहीं गई

ये भी पढ़े: नेहरू के नाम पर कब तक कश्‍मीरियों को भरमाएंगे

ये भी पढ़े: ये तकिया बड़े काम की चीज है 

ये भी पढ़े: अब चीन की भी मध्यस्थ बनने के लिए लार टपकी

ये भी पढ़े: कर्नाटक में स्‍पीकर के मास्‍टर स्‍ट्रोक से भाजपा सकते में

ये भी पढ़े: बच्चे बुजुर्गों की लाठी कब बनेंगे!

ये भी पढ़े: ये तो सीधे-सीधे मोदी पर तंज है

ये भी पढ़े: राज्‍यपाल बनने का रास्‍ता भी यूपी से होकर गुजरता है

ये भी पढ़े: जिन्हें सुनना था, उन्होंने तो सुना ही नहीं मोदी का भाषण

ये भी पढ़े: भाजपाई गडकरी का फलसफाना अंदाज

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com