Wednesday - 1 April 2020 - 8:41 PM

योगी की मंत्री के देवर के आगे कानून व्यवस्था का उड़ा माखौल, पति भी दे बैठे मर्डर की धमकी

न्यूज डेस्क

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भले ही कानून व्यवस्था की सख्ती के दावे कर रहे हों मगर उनकी सरकार के एक मंत्री के लोगों ने ही कानून की धज्जियां उड़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

योगी सरकार की मंत्री स्वाती सिंह के देवर का नया कारनामा सामने आया है। मंत्री स्वाती सिंह के देवर धर्मेंद्र सिंह ने प्रॉपर्टी के विवाद के चलते एक बुजुर्ग का अपहरण कर उनके साथ मारपीट की है।

ये भी पढ़े: आपसी बातचीत पर निगरानी, सभी उपयोगकर्ताओं के कॉल रिकॉर्ड मांग रही है सरकार

साथ ही मंत्री के पति और बीजेपी नेता दया शंकर सिंह ने उनके चचेरे भाई को कहा है कि यदि इसका समाधान वे नहीं करवाते है तो इस मामले में मर्डर भी हो सकता है।

अपने विवादित बयान के लिए चर्चा में रहने वाले बीजेपी नेता दयाशंकर सिंह के भाई धर्मेंद्र सिंह पर सुदर्श अवस्थी ने मुकदमा दर्ज करवाया है। उनका आरोप है कि उन्हें बीती रात उनके घर से 14 -15 लोगों ने अगवा कर उनके साथ मारपीट की और अपने साथ ले गये।

ये भी पढ़े: कोरोना के चलते 2.5 करोड़ नौकरियां खतरे में !

जो लोग बीच- बचाव करने के लिए आगे बढ़े उन्हें भी लाठी से पीटा गया। इसके बाद वे सभी उन्हें अपने साथ गाड़ी से ले गये और उनका मोबाइल और पैसे भी छिन लिये गये। इसके बाद उन गुंडों ने धमेंद्र सिंह से मेरी फोन पर बात करवायी, जिसमें मुझसे धर्मेंद्र ने कहा कि मेरे खिलाफ लिखाये गये सारे मुकदमें सुलह कर खत्म करो नहीं तो जान से जाओगे।

जब सुदर्श अवस्थी ने धर्मेंद्र से सामने आकर बात करने को कहा तो उनसे फोन छिन लिया गया। उन गुंडों ने सुदर्श को रास्ते भर पीटा और सुलहा करने का दबाव लगातार बनाते रहे।

ये भी पढ़े: योगी सरकार के 3 साल का कांग्रेस ने जारी किया ‘रिपोर्ट कार्ड’

इस घटना की सूचना देने जैसे ही सुदर्श हुसैनगंज कोतवाली में रिर्पोट लिखवाने लगे तो उन्हें पता चला कि एक महिला द्वारा उनके खिलाफ एक झूठी रिर्पोट लिखवायी जा रही है। उस महिला की तरफ से दी गयी तहरीर में सुदर्श पर आरोप लगाया गया है कि फ्लैट में जाकर महिला के साथ छेड़छाड़ की और अभद्रता की गयी है।

प्रदेश सरकार में एक मंत्री की भतीजी ने हुसैनगंज कोतवाली में कुछ लोगों पर छेड़छाड़ की एफआईआर दर्ज तो कराई है, लेकिन वो एक बुजूर्ग पर कितनी सही साबित होती है, ये तो आने वाला समय ही बतायेगा। वहीं दूसरे पक्ष ने अपहरण का आरोप लगाकर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

इंस्पेक्टर हुसैनगंज अंजनी कुमार पांडेय के मुताबिक दोनों पक्षों में पुराना विवाद चल रहा है। एफआईआर दर्ज कराई गई है। मामले की छानबीन की जा रही है।

इंस्पेक्टर की माने तो अपार्टमेंट में रहने वाले बिल्डर सुदर्श अवस्थी का आरोप है कि बुधवार रात असलहे से लैस कुछ लोगों ने उन्हें अगवा कर लिया। इस दौरान आरोपितों ने उनकी पिटाई की और गाड़ी में घुमाते रहे। आरोप है कि आरोपितों के साथ एक पुलिसकर्मी भी शामिल था।

उधर, सुदर्श पर एक युवती ने छेड़छाड़ की एफआइआर दर्ज कराते हुए कार्रवाई की मांग की है। पुलिस का कहना है कि फ्लैट के मेंटिनेंस को लेकर दोनों पक्षों का कोर्ट में विवाद चल रहा है। इस मामले में जब सुदर्श अवस्थी के चचेरे भाई और दिल्ली के एक वरिष्ठ पत्रकार ने दयाशंकर सिंह से बात की तो दयाशंकर ने कहा कि यदि ये मामला नहीं सुलझा तो मर्डर भी हो सकता है।

ये भी पढ़े: कोरोना के कम्यूनिटी ट्रांसमिशन से कैसे बचें

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com