Saturday - 8 May 2021 - 12:41 AM

अपने मंत्री की वजह से नई मुसीबत में फंसी येदियुरप्पा सरकार

जुबिली न्यूज डेस्क

कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार अपने एक मंत्री की वजह से एक नई मुसीबत में फंसती नजर आ रही है। जल संसाधन मंत्री रमेश जरकीहोली की एक कथित वीडियो सीडी मंगलवार को टीवी चैनलों पर दिन भर टीवी चैनलों पर चलती रही।

सीडी में जरकीहोली के साथ एक महिला भी दिखाई दे रही थी और दोनों के बीच कुछ बातचीत भी सुनाई गई।

फिलहाल इस मामले में एक सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने बेंगलुरु के क्यूबन पार्क पुलिस स्टेशन में एक शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने मांग की है कि कर्नाटक के मंत्री रमेश जरकीहोली के इस स्कैंडल में शामिल होने के मामले की जांच की जाए।

 

ऐसा आरोप है कि वीडियो क्लिप में दिख रही महिला को जल संसाधन मंत्री ने सरकारी नौकरी के बहाने फुसलाया और उसका शोषण किया।

वहीं इस मामले में बेंगलुरु सेंट्रल के डीसीपी एमएन अनुचेथ ने कहा, “पुलिस को अभी भी इस मामले में आधिकारिक मामला दायर करना है। फिलहाल इस शिकायत की कानूनी वैधता की जांच की जा रही है।”

ये भी पढ़े :  डीजीपी के खिलाफ शिकायत में महिला आईपीएस ने कहा-मेरा हाथ चूमा और…

बताया जा रहा है कि इस वीडियो क्लिप के सामने आने के बाद से मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने भाजपा नेताओं के साथ बैठक की। सूत्रों का कहना है कि जरकीहोली का पक्ष सुनने के बाद पार्टी उनके इस्तीफे पर फैसला लेगी।

इस मामले में प्राथमिक शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार ने भी कहा कि इस मुद्दे पर आगे का फैसला भाजपा नेतृत्व ही करेगा।

मालूम हो कि इस मामले में जहां अब तक भाजपा नेता बोलने से बचते रहे हैं, वहीं मंत्री जरकीहोली भी संपर्क से बाहर हैं। हालांकि, बाद में उन्होंने रिपोर्टर्स से बातचीत में इस वीडियो सीडी को फर्जी करार दिया।

जल संसाधन मंत्री जरकीहोली ने कहा, “यह एक फेक वीडियो है। मैं इसमें दिख रही महिला और शिकायतकर्ता को जानता भी नहीं हूं।”

ये भी पढ़े :  ‘पति की गुलाम या सम्पत्ति नहीं है पत्नी जिसे पति के साथ जबरन रहने को कहा जाए’

ये भी पढ़े :  तो इस वजह से सांसद के बेटे ने खुद पर चलवाई गोली 

उन्होंने कहा कि, “मैं मैसूर में था और चामुंडेश्वरी मंदिर गया था। मैं इस वीडियो के बारे में भी नहीं जानता, क्योंकि मैंने कभी इस महिला से बात ही नहीं की। मैं जल्द ही हाई कमांड से मिलकर इस कथित वीडियो पर सफाई दूंगा।”

मंत्री ने कहा, “अगर मेरे खिलाफ लगे आरोप साबित हो जाते हैं, तो मैं विधायक के पद से इस्तीफा देने के साथ ही राजनीति भी छोड़ दूंगा। ये गंभीर आरोप हैं। मैंने इस बारे में मुख्यमंत्री से बात की है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की भी मांग की है। इस मामले पर गहराई से जांच की जाएगी।”

ये भी पढ़े : महज एक रुपये की सैलरी पर प्रशांत किशोर ने मिलाया कांग्रेस से हाथ

ये भी पढ़े : अजय लल्लू ने सरकार को दिखाया आईना

मालूम हो कि रमेश जरकीहोली (60) उत्तर कर्नाटक के बेलागावी क्षेत्र से ताकतवर मंत्री हैं। पिछले कुछ दिनों में कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार से उनकी अनबन की खबरें सामने आई थीं। जबकि पहले ये दोनों नेता साथी थे।

माना जाता है कि बेलगावी क्षेत्र के नियंत्रण को लेकर ही इन दोनों नेताओं के बीच आपसी विवाद उभरा है। जरकीहोली ने 2019 में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन तोडऩे में अहम भूमिका निभाई थी। कहा जाता है कि इनकी वजह से ही कांग्रेस के 17 विधायक और जेडीएस के भी कुछ विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे, जिससे राज्य में बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली सरकार बन गई थी।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com