Friday - 19 August 2022 - 1:04 PM

यूपी के ब्राह्मणों को लुभाने के लिए कांग्रेस का क्या है प्लान ?

  • यूपी के ब्राह्मणों को एकजुट करेंगे पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद
  • ‘ब्राह्मण चेतना परिषद” के माध्यम ये चलाया जायेगा कार्यक्रम

जुबिली न्यूज डेस्क

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अभी दो साल का वक्त है, लेकिन कांग्रेस इसकी रूपरेखा तैयार करने में जुट गई है। प्रियंका गांधी पहले से ही योगी सरकार पर आक्रामक रवैया अपनाए हुए हैं तो वहीं अभी कांग्रेस ने यूपी के ब्राह्मणों को लुभाने के लिए एक नया प्लान तैयार किया है।

यूपी के ब्राह्मणों को एकजुट करने की जिम्मेदारी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद को सौपी है। जितिन अपने संगठन ‘ब्राह्मण चेतना परिषद” के जरिए यूपी के ब्राह्मणों को एकजुट करेंगे। इस संगठन के माध्यम से वह ‘ब्राह्मण चेतना संवाद’  कार्यक्रम करेंगे और इससे ज्यादा से ज्यादा लोगों से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए हर जिले में संपर्क स्थापित करेंगे।

ये भी पढ़े: लॉकडाउन इफेक्ट : 85 फीसदी परिवारों की कम हुई कमाई

ये भी पढ़े: अब ऑनलाइन क्लास लेने वाले विदेशी छात्रों को छोड़ना होगा अमेरिका

ये भी पढ़े:  पत्रकार तरुण सिसोदिया की मौत पर क्‍यों उठ रहें हैं सवाल

पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रसाद ने इस सिलसिले में सोमवार को ‘ब्राह्मण चेतना परिषद” के लेटर हेड से जारी बयान में यह घोषणा की है। इसमें उन्होंने कहा है कि परिषद ने निर्णय लिया है कि ‘ब्राह्मण चेतना संवाद’  कार्यक्रम के जरिए समाज के ज्यादा से ज्यादा लोगों से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए हर जिले में संपर्क स्थापित किया जाए।

हालांकि प्रसाद ने यह भी स्पष्ट किया कि इस कार्यक्रम का कांग्रेस से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि वह ‘ब्राह्मण चेतना परिषद’ के संरक्षक हैं और यह संगठन वर्ष 2017 में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के वक्त गठित हुआ था। उस चुनाव के दौरान भी संगठन ने लखनऊ और कानपुर में ब्राह्मण सम्मेलन तथा बस्ती, प्रतापगढ़, अमेठी, इलाहाबाद में ब्राह्मण यात्राएं आयोजित की थीं।

इस मौके पर प्रसाद ने कहा कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था खराब है और उसका सबसे ज्यादा निशाना भी ब्राह्मण ही हो रहे हैं। सत्ताधारी ब्राह्मण तो मजे में हैं, लेकिन बाकी का शोषण हो रहा है। ब्रह्म चेतना संवाद कार्यक्रम का मकसद ब्राह्मणों से बात करना, उनकी दिक्कतों को समझना और उनके मुद्दे उठाना है।

ये भी पढ़े: महामारी, महिलायें और मर्दवाद

ये भी पढ़े: कोविड-19 राहत पैकेज : सभी महिलाओं के जनधन खातों में नहीं पहुंचा पैसा 

ये भी पढ़े:  वैज्ञानिकों का दावा-हवा से भी फैल रहा है कोरोना वायरस  

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com