Monday - 27 January 2020 - 3:31 AM

खुद पर महाभियोग चलाए जाने पर क्या है ट्रम्प की प्रतिक्रिया

जुबिली न्यूज़ डेस्क 

अमेरिका में डेमोक्रेटिक बहुमत वाले हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव की कमेटी ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ दो आरोपों को मंजूरी दे दी। जिसके बाद ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग चलाने का रास्ता लगभग साफ हो गया है। हाउस ज्यूडिशियरी कमेटी ने शुक्रवार को 23-17 से महाभियोग के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट करके इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. ट्रम्प का कहना है कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है और उनके नेतृत्व में देश अच्छा प्रदर्शन कर रहा है, इसलिए उनके खिलाफ महाभियोग चलाया जाना अनुचित है।

ट्रम्प ने ट्वीट किया, ”मैंने कुछ भी गलत नहीं किया, ऐसे में मेरे खिलाफ महाभियोग चलाया जाना अनुचित है। डेमोक्रेट नफरत की पार्टी बन गए हैं। वे हमारे देश के लिए बहुत खराब हैं।”

बता दें कि इससे पहले उन्होंने महाभियोग को एक छल और राजनीति से प्रेरित बताया था.

ट्रम्प पर हैं ये आरोप

ट्रम्प पर आरोप हैं कि उन्होंने 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में संभावित प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन समेत अपने प्रतिद्वंद्वियों की छवि खराब करने के लिए यूक्रेन से गैरकानूनी रूप से मदद मांगी थी।

बता दें कि अगर अगले सप्ताह हाउस ट्रंप के खिलाफ महाभियोग चलाने के प्रस्ताव के पक्ष में वोट करता है तो वह इस कार्यवाही का सामना करने वाले अमेरिका के तीसरे राष्ट्रपति होंगे। हालांकि ट्रंप को राष्ट्रपति पद से हटाने की संभावना बेहद कम है, क्योंकि सीनेट में उनकी पार्टी रिपब्लिकन बहुमत में है।

डेमोक्रेट्स ने मामले की सुनवाई के दौरान ट्रंप पर अमेरिकी संविधान और सुरक्षा को खतरे में डालने, जुलाई में यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दिमीर जेलेंस्की को फोन कर बिडेन के खिलाफ जांच का दबाव बनाने का आरोप लगाया था।

यह भी पढ़ें : अपने अपने एजेंडे पर भाजपा और कांग्रेस, वोटर पर निगाहें

कमेटी के चेयरमैन जेरी नाडलेर ने कहा, अमेरिका के लिए आज काला दिन है क्योंकि 150 साल के इतिहास में तीसरी बार कमेटी ने किसी राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव के पक्ष में वोट किया है।

अगर महाभियोग चलता है तो उन्हें सीनेट में अगले साल की शुरुआत में ट्रायल से गुजरना होगा, जो राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले होगा। वहीं, ट्रंप का बचाव करते हुए रिपब्लिकन्स ने इस कार्यवाही को राजनीति से प्रेरित बताया है। सीनेट की ज्यूडिशियरी कमेटी के चेयरमैन लिंडसे ग्राहम ने कहा, यह कदम 2016 में ट्रंप को मिली आश्चर्यजनक जीत का नतीजा है।

यह भी पढ़ें : एक और उन्नाव ! यूपी के फतेहपुर में रेप पीड़िता को जिंदा जलाया

यह भी पढ़ें : प्रेम प्रसंग की आड़ में आरोपी ने किया बेहद ‘गंदा’ काम और फिर मस्जिदों से हुआ ये ऐलान

यह भी पढ़ें : राम मंदिर के लिए सीएम Yogi ने ये क्या मांग कर दी

Loading...
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com