Sunday - 7 March 2021 - 5:59 PM

ममता ने इसलिए वैशाली डालमिया को पार्टी से निकाला

जुबिली स्पेशल डेस्क

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल का चुनाव नजदीक हैऔर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। चुनाव से पहले पार्टी के दिग्गज नेता और ममता के करीबी माने जाने वाले शुभेंदु अधिकारी ने पहले ही पार्टी छोड़ दी थी।

उनके बाद अब ममता के एक और विधायक अरिंदम भट्टाचार्य भी बीजेपी में शामिल हो गए थे। अब इसके साथ ही टीएमसी के ही वरिष्ठ नेता राजीव बनर्जी ने ममता बनर्जी मंत्रिमंडल से अपने आप को अलग करते हुए इस्तीफा दे दिया। ऐसे में ममता बनर्जी अपनी पार्टी को टूटने बचाना चाहती है।

उधर पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस ने एक और बढ़ा कदम उठाया है। दरअसल अपनी ही पार्टी के विधायक वैशाली डालमिया को पार्टी से बाहर कर दिया है। बताया जा रहा है कि यह कदम अनुशासनात्मक समिति की बैठक के बाद किया गया है।

वैशाली डालमिया बीसीसीआई की पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया की बेटी है। जानकारी के मुताबिक टीएमसी नेतृत्व को लेकर उन्होंने अपनी बात रखी थी। इतना ही नहीं उन्होंने दावा किया था कि पार्टी में ईमानदार लोगों के लिए कोई जगह नहीं है।

बताया जा रहा है कि टीएमसी के ही वरिष्ठ नेता राजीव बनर्जी ने ममता बनर्जी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने पर डालमिया ने इसको लेकर पार्टी नेतृत्व की आलोचना की थी।

यह भी पढ़ें : अतिपिछड़ो को सहेजने की कवायद में जुटी यूपी कांग्रेस

यह भी पढ़ें :  अमेजॉन प्राइम की मुश्किलें बढ़ी, अब मिर्जापुर पर नोटिस

अपने इस्तीफे को लेकर तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव बनर्जी ने शुक्रवार को चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि पार्टी नेताओं के एक धड़े के खिलाफ आवाज उठाने पर उनके खिलाफ हो रहे व्यक्तिगत हमलों से बेहद आहत हो कर उन्होंने राज्य के वन मंत्री के पद से इस्तीफा दिया है।

यह भी पढ़ें : 2022 से पहले प्रियंका गांधी इस तरह पहुंचेंगी आपके घर

यह भी पढ़ें :  अर्णब-पार्थो की कथित चैट में हुआ नया खुलासा, जज खरीदने…

बनर्जी ने हालांकि आने वाले दिनों में पार्टी छोडऩे की योजना के बारे में पूछे जाने पर कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं से मुझे कुछ शिकायतें थीं और मैंने पार्टी नेतृत्व को उस बारे में बता दिया था। पार्टी प्रमुख के साथ मेरी बात भी हुई थी,लेकिन कुछ नहीं हुआ। बल्कि नेताओं के एक धड़े ने मुझ पर व्यक्तिगत हमले किए।

इससे पहले ममता सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके शुभेंदु अधिकारी पिछले महीने बीजेपी में शामिल हुए थे। उनके साथ आधा दर्जन से अधिक टीएमसी नेताओं ने बीजेपी में शामिल होने का फैसला लिया था।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com