दिल्ली में कोरोना को लेकर हुआ ये खुलासा, हो जाए सावधान

जुबिली न्यूज डेस्क

देश में कोरोना के नये मामले एक बार फिर बढऩे लगे हैं। राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में कोरोना के मामले बढऩे लगे हैं।

पिछले दिनों दिल्ली के कई स्कूलों में कोरोना के नये मामले सामने आए थे। अब कोरोना को लेकर एक एक रिपोर्ट आई है जिसमें कहा गया है कि राजधानी में कोरोना वायरस से संक्रमित प्रत्येक व्यक्ति दो अन्य लोगों को संक्रमित कर रहा है।

आईआईटी मद्रास द्वारा किए गए एक विश्लेषण के मुताबिक, राजधानी दिल्ली का ”आर-मूल्य”, जो कोरोना के प्रसार का संकेत देता है, इस सप्ताह 2.1 दर्ज किया गया। इसका मतलब है किदिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमित प्रत्येक व्यक्ति दो अन्य लोगों को संक्रमित कर रहा है।

यह भी पढ़ें :  महाराष्ट्र : हनुमान चालीसा पर हंगामा, शिवसैनिक को नवनीत राणा दिया चैलेंज

यह भी पढ़ें : आगरा के RTO ने रद्द कर दिए 60 हजार गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन

यह भी पढ़ें :  तेज प्रताप बोले- खेल होगा..ये सीक्रेट है…हमारी नीतीश जी..

”आर” प्रजनन मूल्य को इंगित करता है कि एक संक्रमित व्यक्ति अन्य कितने व्यक्तियों को संक्रमित कर सकता है। यदि यह एक से नीचे चला जाता है तो इसे महामारी की समाप्ति मान लिया जाता है।

आईआईटी मद्रास के मैथ डिपार्टमेंट और सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर कम्प्यूटेशनल मैथमेटिक्स एंड डेटा साइंस द्वारा यह कम्प्यूटेशनल मॉडलिंग द्वारा प्रारंभिक विश्लेषण किया गया था, जिसकी अध्यक्षता प्रोफेसर नीलेश एस उपाध्याय और प्रोफेसर एस सुंदर ने की थी।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस सप्ताह दिल्ली का ”आर-मूल्य” 2.1 दर्ज किया गया था। विश्लेषण में पाया गया कि मौजूदा वक्त में देश का ”आर-मूल्य” 1.3 है।

यह भी पढ़ें : चर्चा का मुद्दा बन गया अमित शाह को इफ्तार पार्टी का यह दावतनामा

यह भी पढ़ें : हिस्ट्रीशीटर की हत्या का राज़ खुला तो सन्न रह गई पुलिस

यह भी पढ़ें : शिवपाल-आज़म की मुलाक़ात क्या कोई नया गुल खिलायेगी 

क्या यह अनुमान लगाया जा सकता है कि यह दिल्ली में कोरोना की संभावित चौथी लहर की शुरुआत है के सवाल पर आईआईटी मद्रास के मैथ डिपार्टमेंट के सहायक प्रोफेसर डॉ जयंत झा ने कहा कि एक और लहर की शुरुआत की घोषणा करना जल्दबाजी होगी।

प्रो. झा ने कहा, ”हम अभी केवल यह कह सकते हैं कि प्रत्येक इंसान दो अन्य लोगों को प्रभावित कर रहा है, लेकिन हमें लहर की शुरुआत की घोषणा करने के लिए थोड़ा इंतजार करने की आवश्यकता है। ”

उन्होंने कहा कि हम अभी लोगों की रोग प्रतिरक्षा की स्थिति के बारे में नहीं जानते हैं और ये भी नहीं जानते हैं कि जो लोग जनवरी में तीसरी लहर के दौरान प्रभावित हुए हैं, वे फिर से प्रभावित हो रहे हैं या नहीं।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com