Thursday - 21 October 2021 - 1:37 AM

पहली बार सामने आई ISIS आतंकी की ये दुल्हन, दुनिया के सामने खोले कई राज

जुबिली स्पेशल डेस्क

7 साल पहले ब्रिटेन से भागकर सीरिया में इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के आतंकवादी की ‘दुल्हन’ बनी बांग्लादेशी मूल की ब्रिटिश लडक़ी शमीमा बेगम अब पूरी तरह से बदल गई है।

इतना ही नहीं अतीत में जो उससे गलती हुई उसपर वो पछता भी रही है। इसके साथ ही वो जनता से माफी मांग रही है। बांग्लादेशी मूल की ब्रिटिश लडक़ी शमीमा बेगम ने अब आतंकवादी संगठन से तौबा कर लिया है और फिर उस दुनिया में नहीं लौटना चाहती है।

शमीमा ने कहा, ”मैं किसी तरह की हिंसक गतिविधियों में शामिल होने के लिए नहीं गई थी और मैं वहां एक आईएस लड़ाके के प्यार में पड़ कर उससे विवाह करने के लिए गई थी।

इस दौरान उसने कई राज से पर्दा भी उठाया है। उसने बताया है कि कैसे जेहादियों ने उसे बहका दिया था। जिसकी वजह से उसने देश छोडऩे का गलत फैसला कर लिया। लिहाजा अब उसे अपने देश वापसी का मौका दिया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : कोरोना : देश में बीते 24 घंटे में 27 हजार से अधिक मामले, 284 मौतें

यह भी पढ़ें :  दिल्ली में इस बार भी नहीं फूटेंगे पटाखे

पहली बार दुनिया के सामने आई आतंकी दुल्हन ने यह बात एक टीवी शो के दौरान कही है।  उसने कहा है कि ब्रिटेन वापस आने का मौका दिया जाना चाहिए। इस दौरान उसने यहां तक कहा है कि वो इस पूरे मामले में सरकार की मदद भी करना चाहती है।

ऐसा करके वह सरकार की जेहादियों और आतंकियों के खिलाफ जंग में साथ दे सकती है। वह अपने अनुभवों के आधार पर सरकार को बता सकती है कि आतंकी किस प्रकार युवाओं को फंसाने के लिए इंटरनेट को अपना टूल बना रहे हैं।

एक अखबार के मुताबिक शमीम बेगम साल 2014 में ब्रिटेन से भागकर सीरिया जा पहुंची थी और वहां पर एक ISIS आतंकी  से शादी कर ली थी और उसके दो बच्चे भी है।

यह भी पढ़ें : शिवसेना के मुखपत्र में जावेद अख्तर ने क्या लिखा है?

यह भी पढ़ें : यूएन ने कहा-कृषि सब्सिडी में फौरन बदलाव की जरूरत

इस अखबार के मुताबिक उस समय उसकी उम्र केवल 15 साल की थी। हालांकि बाद में उसके शौहर की मौत हो गई थी। सीरिया-इराक की जंग में आतंकियों का पूरी तरह से सफाया हो गया था और इसी में उसके शौहर की मौत हो गई थी।

ISIS आतंकियों ने सीरिया और इराक के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया था। इसके बाद ISIS पूरे वर्ल्ड के लिए खतरा बनकर सामने आया था।ISIS आतंकियों ने आम लोगों को मौत के घाट उतारा। इसके बाद अमेरिका और रूस समेत कई देशों ने आतंकियों के खिलाफ सीरिया-इराक में अभियान शुरू किया। जिसमें बड़ी संख्या में ISIS के आतंकी मारे गए। मरने वालों में शमीमा बेगम का शौहर भी शामिल था।

यह भी पढ़ें : आखिर क्यों येदियुरप्पा की यात्रा से बीजेपी परेशान है?

यह भी पढ़ें : पत्नी से गुस्साए पति ने बेटी को डाला वाशिंग मशीन में, जानिए फिर क्या हुआ?

इसके बाद वो अपने देश यानी ब्रिटेन वापसी की कोशिशों में जुटी हुई लेकिन ब्रिटेन सरकार ने फरवरी 2019 में आदेश जारी कर उसकी नागरिकता रद्द कर दी। इतना ही नहीं सरकार उसे देश में घुसने नहीं देगी। इस वजह से शमीमा बेगम सीरिया के एक रिफ्यूजी कैंप में रहने पर मजबूर है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com