Friday - 29 May 2020 - 5:38 AM

Tag Archives: उत्कर्ष सिन्हा

क्या कोरोना युद्ध में असफल हो रही है सरकार ?

उत्कर्ष सिन्हा ये खबर लिखने के वक्त 64 दिन हो चुके हैं जब हमारे प्रधानमंत्री ने कोरोना से लड़ाई की शुरुआत की घोषणा जनता कर्फ्यू के साथ की थी । आज दो महीने 4 दिन बाद हालात और भी बदतर हो चुके हैं। शहरों में सिमटा कोरोना गावों तक पहुच …

Read More »

क्या कोरोना बदल देगा राजनीति की दिशा ?

उत्कर्ष सिन्हा हर राजनीति का एक दौर होता है । हर संकट बदलाव लाता है । ये दो कथन एक दम सत्य है। इतिहास की कसौटी पर कसिएगा तो आप साफ देख पाएंगे कि राजनीति ने भी एक खास वक्त के बाद अपना केंद्र बदला है। उसके मुद्दे भी बदल …

Read More »

ये कोरोना काल है या कन्फ्यूजन काल ?

उत्कर्ष सिन्हा कोरोना की चपेट में आए हमे करीब दो महीने हो चुके हैं । इस बीच लगातार बहुत कुछ घट रहा है । वैसे तो वक़्त के चक्र में बहुत कुछ हमेशा ही घटता रहता है और उसके केंद्र में मौजूद कारक बदलते रहते हैं । इस व्यक्त घटित …

Read More »

क्या प्रियंका के दांव में उलझ जाते हैं योगी ?

उत्कर्ष सिन्हा कोरोना संकट के बीच मदद की सियासत जोर पकड़ चुकी है । कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के फेंके गए पासे को समझने में योगी सरकार एक बार फिर चूक गई । हालात ये हैं कि 1000 बसों का इस्तेमाल होने की बजाए ये बसें सियासत में टेबल टेनिस …

Read More »

यहाँ तो घोड़े ने ही सवार की लगाम पकड़ ली है

उत्कर्ष सिन्हा अदम गोंड़वी की इन लाईनों को पहले याद कर लें – तुम्हारी फाइलों में गाँव का मौसम गुलाबी है मगर ये आंकड़े झूठे हैं ये दावा किताबी है उधर जम्हूरियत का ढोल पीटे जा रहे हैं वो इधर परदे के पीछे बर्बरीयत है, नवाबी है। बीते करीब 15 …

Read More »

इस लेख की हेडिंग आप बनाइये

उत्कर्ष सिन्हा सुबह सुबह घर के बाहर सकुचाया हुआ आदमी देखा, साईकिल की हैंडील पर पानी की एक बोतल टंगी थी और आगे एक नन्हा बच्चा बैठ था। धीरे से आवाज आई । कुछ खाने को मिल जाएगा ? ये आवाज उसके आँखों के सूनेपन से सिन्क्रॉनईज थी। खाने का …

Read More »

कोरोना काल के बाद क्या बदल जाएगा राजनीति का तौर तरीका ?

उत्कर्ष सिन्हा मायावती और मोदी की वो लाखों की भीड़ वाली रैलियां क्या अब अतीत के किस्से रह जाएंगे ? भीड़ भरे शहरों की सड़कों पर होने वाले रोड शो का दौर क्या खत्म हो चुका है ?  कोरोना संक्रमण ने पूरे देश को एक नया शब्द समझा दिया है …

Read More »

मीडिया की स्वतंत्रता हर नागरिक की स्वतंत्रता, पत्रकारों की लड़ाई में समाज भी साथ दे

न्‍यूज डेस्‍क लखनऊ. पत्रकारों की स्वतंत्रता नागरिकों की स्वतंत्रता से अलग नही है। पत्रकारों पर होने वाले हमले के विरोध में केवल मीडिया ही नही समाज के हर वर्ग को साथ आना चाहिए। विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस (वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम डे) के मौके पर रविवार 3 मई को इंडियन फेडरेशन …

Read More »

अलविदा रोमांस के राजकुमार

उत्कर्ष सिन्हा   जिस दौर में सिनेमा के पोस्टर्स पर खून, बंदूके और तमंचे छाए रहते थे उस दौर में हांथो में गिटार और ढपली लिए एक मासूम चेहरे ने बड़ी घमक के साथ अपनी जगह बना ली थी। 70 के दशक में युवाओं को रोमांस व प्यार के जुनून …

Read More »

अलविदा सूजी सी आंखों वाले जादूगर

उत्कर्ष सिन्हा इरफान के मौत की खबर भी ठीक उसी वक्त आई जब हम अपने परिवार के साथ “इंग्लिश मीडियम” की चर्चा कर रहे थे । अभी 8 रोज पहले ही तो देखी थी ये फिल्म । अपनी बेटी की तमन्ना को पूरा करने वाले बाप की ये कहानी कहीं …

Read More »
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com