Sunday - 15 December 2019 - 1:13 AM

सोशल मीडिया सिर्फ मजा लेने के लिए नहीं

राजीव ओझा

जम्मू के कठुआ नगर में कुछ दिनों पहले एक विचलित करने वाला वीडियो वायरल हुआ था। जिसमे एक बच्ची को एक महिला बुरी तरह पीट रही थी। प्यारी सी बच्ची बार बार पापा से बचाने के लिए मदद गुहार लगा रही थी। लेकिन पाप कहीं दिख नहीं रहे थे। लेकिन अपने बाथरूम की खिड़की से चुपचाप इस परेशान करने वाली पिटाई का वीडियो बना रहे थे। इस अभागी बच्ची के पिता ने ही वीडियो बना कर वायरल किया है।

दिल दहला देने वाली घटना का पुलिस ने संज्ञान लिया और महिला की पहचान कर उसे हिरासत में ले लिया। यह घटना जघन्य कृत्य की श्रेणी में आती है। साथ ही इस अमानवीय कृत्य को मानवाधिकार का उल्लंघन भी माना जायेगा। महिला जिस तरह से अपनी बच्ची को पीट रही थी उसे देख लगता है कि महिला मानसिक रूप से बीमार है। ये तो रहे फैक्ट।

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई

अब बात करते हैं सोशल मीडिया की। सोशल मीडिया पर “क्रांति” करने वाले कुछ लोगों को इस वीडियो पर सख्त आपत्ति थी कि इस तरह के वीडिओ शेयर नहीं किये जाने चाहिए। जबकि इसके ठीक उलट कुछ लोगों का कहना था कि हर उस वीडियो को शेयर करना चाहिए जो लोगों को झकझोरे, सोचने पर मजबूर करे। सोशल मीडिया के मंच पर शेयरिंग किसी भी अपराध या गैरकानूनी काम का विरोध करने का एक सशक्त हथियार है।

किसी बात को ज्याद से ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने से उस कृत्य के खिलाफ एक जनमत तैयार होता है। करण कुछ भी रहा हो छोटी सी बच्ची की बेरहमी से पिटाई करने वाली महिला, मां के नाम पर कलंक है। छह साल की बच्ची को बेरहमी से पीटने वाला वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की। यह वीडयो शेयरिंग का ही नतीजा था। हालांकि कि इसमें थोडा समय जरूर लगा लेकिन घटना के स्थान और उस बेरहम महिला और अभागी बच्ची का नाम, पता पुलिस ने ढूंढ निकला।

मानसिक रूप से बीमार मां ही ऐसा कर सकती

यह मामला पारिवारिक कलह का है। महिला का अपने पति के साथ पिछले कई महीनों से झगड़ा चल रहा है। महिला ने अपना फ्रस्टेशन अपनी छह साल की बच्ची को बेरहमी से पीट कर निकला। एक मिनट 25 सेकेण्ड के वीडयो में महिला बच्ची की चोटी पकड़ कर बार बार पटक रही है एक बार तो ऐसा लगा की वह बच्ची का गला दबा रही है। घबराई बच्ची कभी अपने मुंह पर उंगली रखती है कभी कान पकड़ती। वीडियो करीब तीन हफ्ते पुराना है। वीडियो खुद पीड़ित बच्ची के पिता ने बनाया है। बेरहम महिला का मायका कठुआ के उत्तरी गाँव में है।

इस घटना से पहले महिला ने अपनी जेठानी को भी पीटा था। इस पारिवारिक कलह की शिकायत वूमेन सेल में भी की जा चुकी है। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने शिकायत पुलिस तक पहुंची। शिकायत पर पुलिस ने संज्ञान लेते हुए महिला पर जुविनाइल प्रोटेक्शन एक्ट की धारा 75 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। वहीं पुलिस ने बेटी के बाप कृष्ण लाल पर भी आईटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। क्योंकि बाप ने वीडियो शूट कर वायरल कर दिया लेकिन इस वीडियो को शूट करने के बाद कोई कंप्लेन नहीं की।

वायरल वीडियो में हैं कई सन्देश

इस वायरल वीडियो में कई सन्देश हैं। पहला यह कि भले ही किसी वीडियो के स्रोत का पता न हो लेकिन अगर यह दिख रहा हो किसी के साथ अन्याय हो रहा है तो उस वीडियो को साझा किया जा सकता है। पिता ने वीडियो बनाया लेकिन पुलिस को शिकायत करने के बजाय उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। भले ही उसका इरादा अपनी बच्ची को मां की प्रताड़ना से मुक्त करना रहा हो लेकिन पुलिस में शिकायत न कर उसने आईटी एक्ट का उल्लंघन किया। अब मामला पुलिस के हाथ में है। पुलिस कानून के अनुसार कार्रवाई कर रही है। जहाँ तक

सोशल मीडिया पर कोई वीडियो शेयर करने की बात है तो अगर उससे समाज में अशांति, वैमनस्य या क़ानून व्यवस्था बिगड़ने की स्थिति न पैदा होती हो और शेयर करने से किसी को यातना या प्रताड़ना से मुक्ति मिलती हो तो उसे जरूर साझा किया जाना चाहिए। सभी को या बात समझनी होगी कि सोशल मीडिया का मंच केवल मजा लेने के लिए नहीं है बल्कि हमारी “सोशल रेसपोंसबिलिटी” भी सोशल मिडिया के प्रति है। क्या शेयर करना है और क्या नहीं करना, इसका फैसला अपने विवेक से हमसब को ही लेना है।

(लेखक वरिष्‍ठ पत्रकार हैं, लेख उनके निजी विचार हैं)

यह भी पढ़ें : “टाइगर” अभी जिन्दा है

यह भी पढ़ें : नर्क का दरिया है और तैर के जाना है !

यह भी पढ़ें : अब भारत के नए नक़्शे से पाक बेचैन

यह भी पढ़ें : आखिर क्यों यह जर्मन गोसेविका भारत छोड़ने को थी तैयार

यह भी पढ़ें : इस गंदी चड्ढी में ऐसा क्या था जिसने साबित की बगदादी की मौत

यह भी पढ़ें : माहौल बिगाड़ने में सोशल मीडिया आग में घी की तरह

यह भी पढ़ें : साहब लगता है रिटायर हो गए..!

यह भी पढ़ें : आजम खान के आंसू या “इमोशनल अत्याचार” !

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com