Monday - 3 August 2020 - 2:08 PM

तो क्या अब नेपाल में नहीं दिखेंगे भारतीय चैनल के प्रसारण

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। नेपाल में पिछले कुछ समय से राजनीतिक उथल- पुथल मची हुई है। प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली भारत के खिलाफ चीन के इशारों पर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। इस बीच खबर आ रही है कि नेपाल सरकार ने नेपाल में भारतीय चैनलों के प्रसारण पर रोक लगा दी है।

नेपाली केबल टीवी प्रदाताओं ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि देश में भारतीय समाचार चैनलों के सिग्नल बंद हो गए हैं। हालांकि अब तक कोई सरकारी आदेश नहीं आया है।

ये भी पढ़े: विकास दुबे का बड़ा क़बूलनामा

ये भी पढ़े: महाकालेश्वर ने जीवनदान दिया और यूपी पुलिस हाथ मलती रह गई

बता दें कि हाल ही में नेपाल की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) के भीतर पैदा हुए मतभेद समाप्त होते नहीं दिख रहे हैं। मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ के बीच सप्ताह भर में आधा दर्जन से अधिक बैठकें होने के बाद भी कोई आम सहमति नहीं बन सकी है।

ये भी पढ़े: दुनिया की आधी से अधिक आबादी वायु गुणवत्ता पर किसी सरकारी डेटा से वंचित

ये भी पढ़े: गांव और शहर के बीच झूलती जिंदगियां

बुधवार को एनसीपी की 45 सदस्यीय स्थायी समिति की एक महत्वपूर्ण बैठक शुक्रवार तक के लिए टाल दी गई। यह लगातार चौथा मौका था जब पार्टी की बैठक टाल दी गई थी ताकि पार्टी के दो अध्यक्षों को मतभेदों को दूर करने के लिए पर्याप्त समय मिल सके।

उम्मीद की जा रही है कि ओली के राजनीतिक भविष्य के बारे में शुक्रवार को स्थायी समिति की बैठक के दौरान फैसला किया जा सकता है। इस बीच नेपाल में चीनी राजदूत होउ यान्की की सक्रियता बढ़ गयी है ताकि ओली की कुर्सी को बचाया जा सके।

ये भी पढ़े: …तो विकास दुबे ने इसलिए किया सरेंडर का फैसला

ये भी पढ़े: केरल : सोना घोटाले ने बढ़ाई सीएम विजयन की मुश्किलें

ये भी पढ़े: भतीजी के सनसनीखेज आरोपों से कैसे बचेंगे राष्ट्रपति ट्रंप

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com