Saturday - 26 September 2020 - 8:09 AM

तो क्या खत्म होने की कगार पर है ‘जापानी इंसेफेलाइटिस’

जुबिली न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। पूर्वी उत्तर प्रदेश में जापानी इंसेफेलाइटिस ने कई सालों तक सैकड़ों लोगों की जान ली। मुख्यमंत्री के मुताबिक अब ये बीमारी पूरी तरह खत्म होने की कगार पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पिछले 40 साल से कहर बरपा रही इंसेफेलाइटिस को अगले दो सालों में पूरी तरह खत्म कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के पूर्वी हिस्से में इंसेफेलाइटिस की मृत्यु दर 2016 के बाद 95 प्रतिशत तक गिर गई है। उन्होंने कहा कि इंसेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ाई अब अंतिम चरण में है। दो साल में इसे इस क्षेत्र से खत्म कर दिया जाएगा। हम कोविड -19 के खिलाफ भी ऐसी ही लड़ाई लड़ेंगे।

ये भी पढ़े: UP में LOCKDOWN को लेकर योगी ने उठाया बड़ा कदम

ये भी पढ़े: बिल्डर की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर दोस्तों से मांगे पैसे तो…

उन्होंने गोरखपुर, कुशीनगर, महराजगंज और देवरिया के इंसेफेलाइटिस के पिछले चार सालों के आंकड़े पेश किए, जिनमें मामलों की संख्या और मृत्यु दर में भारी गिरावट देखी गई।

ये भी पढ़े: भूख से बच्चे की हुई मौत, तीन दिन तक अपने बच्चे का लाश पोछती रही मां

ये भी पढ़े: तो इसलिए शाही परिवार के दो सदस्यों को बर्खास्त किया गया

गौरतलब है कि अगस्त 2017 में गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में तीन दिनों में 60 बच्चों की मौत हो गई थी। इसके पीछे कथित तौर पर ऑक्सीजन की आपूर्ति में व्यवधान होने के कारण बताया गया था और इसे लेकर बड़े पैमाने पर विवाद हुआ था। इसके बाद से ही योगी ने इस क्षेत्र में स्वच्छता और जागरूकता अभियान चलाया, जिससे एन्सेफलाइटिस मामलों की संख्या में भारी कमी आई है।

जापानी बुखार क्या है

जापानी इंसेफेलाइटिस एक ऐसी बीमारी है, जो मच्छरों के काटने से फैलता है। ये मच्छर फ्लेविवायरस संक्रमित होते हैं। यह संक्रामक बुखार नहीं है। यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है। विशेषज्ञों की मानें तो जापान इंसेफेलाइटिस पूर्वांचल भारत में अधिक होता है। इस बुखार का पता मच्छर के काटने के 5 से 15 दिनों में दिखाई देता है।

ये भी पढ़े: कोरोना पर घिरी योगी सरकार, केंद्र की बढ़ी चिंता

ये भी पढ़े: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने डॉ कफील खान को दिया रिहा करने का आदेश

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com