Tuesday - 1 December 2020 - 4:23 AM

तो क्या जरूरत के सामान में नहीं आता सैनिटरी पैड्स ?

जुबिली न्यूज डेस्क

ब्रिटेन के वेल्स में सैनिटरी पैड्स पर विवाद छिड़ गया है। ब्रिटेन की जानी-मानी सुपरमार्केट चेन और सरकार को सैनिटरी पैड्स जरूरत का सामान नहीं लगता। इस पर महिलाओं ने ट्विटर पर हंगामा मचा दिया जिसके बाद सुपरमार्केट को माफी मांगनी पड़ी और सरकार को भी सफाई देनी पड़ी है।

दरअसल ब्रिटेन के वेल्स में सरकार ने तालाबंदी के तहत बाजारों में केवल जरूरत का सामान बेचने की अनुमति दी गई है। इस आदेश के तहत जानी-मानी सुपरमार्केट चेन टेस्को ने सैनिटरी पैड्स की खरीद पर रोक लगा दी, लेकिन महिलाओं ने इसका विरोध शुरु कर दिया।

स्टोर में सैनिटरी पैड्स ना खरीद पाने के कारण एक महिला ग्राहक ने ट्विटर पर टेस्को से इस बारे में सवाल किया। महिला ग्राहक ने लिखा, “क्या आप मुझे यह समझा सकते हैं कि आज (आपके स्टोर में) मुझसे यह क्यों कहा गया कि मैं पीरियड्स के लिए पैड्स नहीं खरीद सकती हूं। मुझे यकीन है कि महिलाओं के लिए यह जरूरत का सामान है। मैं शराब खरीद सकती हूं। मुझे इसकी कोई तुक समझ में नहीं आ रही।”

यह भी पढ़ें : रूसी कोरोना वैक्सीन को लेकर क्या है अच्छी खबर ?

यह भी पढ़ें : तो क्या मार्च तक मिल सकता है फ्री में अनाज और कैश! 

महिला के इस सवाल के जवाब में कंपनी टेस्को ने लिखा, “हम समझ सकते हैं कि हमारे ग्राहकों के लिए ये नए नियम परेशानी का सबब बन सकते हैं, लेकिन हमें वेल्स सरकार ने निर्देश दिए हैं कि तालाबंदी के दौरान यह सामान ना बेचा जाए।”

टेस्को के इस जवाब के बाद से कई महिलाओं ने इस पर आपत्ति जतायी। महिलाओं का विरोध देख टेस्को को यह ट्वीट डिलीट करना पड़ा, लेकिन अब इसके स्क्रीनशॉट वायरल हो रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  चक्रव्यूह में चिराग 

यह भी पढ़ें : चुनाव, धनबल और कानून

टेस्को के इस रवैये पर आपत्ति दर्ज करते हुए एक महिला ने लिखा, क्या टेस्को चाहेगा कि हम पीरियड्स के दौरान बिना पैड्स के उनके स्टोर में जाएं क्योंकि उन्हें लगता है कि यह जरूरत का सामान नहीं है।”

दरअसल ब्रिटेन के वेल्स में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन लगाया गया है। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सुपरमार्केट को केवल जरूरत का ही सामान रखने को कहा गया है।

ऐसे हालात में सरकार ने कपड़े, खिलौने, किताबें और बिजली के सामान की बिक्री को फिलहाल बंद कर दिया है। दुकानों तक सूचना देरी से पहुंचने के कारण दुकानों और ग्राहकों में असमंजस का माहौल है कि आने वाले दिनों में बाजार में क्या मिलेगा और क्या नहीं।

लेकिन सोशल मीडिया में सेनिटरी पैड्स का मामला वायरल होने के बाद सरकार को भी बीच में आना पड़ा। वेल्स सरकार ने फौरन इस पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया, “यह गलत है। पीरियड्स का सामान जरूरी है। सुपरमार्केट वे सामान बेच सकते हैं जो केमिस्ट के यहां भी मिलता है।”

सरकार के इस ट्वीट के कुछ ही मिनटों के बाद टेस्को ने भी ग्राहक ने माफी मांगते हुए कहा है कंपनी सैनिटरी पैड्स की अहमियत को समझती है और वह मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें : लड़कियों से छेड़छाड़ करने वाला कार सवार पकड़ा गया तो…

यह भी पढ़ें : ‘बिहार में मुख्यमंत्री चुना जाना है प्रधानमंत्री नहीं’

यह भी पढ़ें :  क्या इशारा कर रही है बिहार मे तेजस्वी की रैलियां !

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com