Sunday - 1 August 2021 - 1:14 AM

अब प्रज्ञा ठाकुर के टीका लगवाने पर छिड़ा विवाद, जानिए क्या है मामला?

जुबिली न्यूज डेस्क

मध्य प्रदेश के भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर अक्सर किसी न किसी वजह से सुर्खियों में बनी रहती है। पिछले कुछ दिनों से वह अपने स्वास्थ्य की वजह से सुर्खियों में बनी हुई हैं।

एक बार फिर वह अपने स्वास्थ्य को लेकर विवादों में आ गई हैं। दरअसल इस हफ्ते भाजपा सांसद ने अपने घर पर कोरोना की वैक्सीन ली। विवाद इसी पर शुरु हुआ है। स्वास्थ्यकर्मी उनके घर पर टीका लगाने गए। इसको लेकर विपक्षी दल हमलावर है।

सोशल मीडिया पर कोरोना टीका लगवाते हुए प्रज्ञा ठाकुर का एक वीडियो वायरल हो रहा है। यह उनके वैक्सीन की पहली डोज बताई जा रही है।

वहीं विपक्षी दलों के नेताओं का कहना है कि प्रज्ञा ठाकुर बास्केटबॉल खेल सकती हैं और शादियों में नाच भी सकती हैं लेकिन टीका लगवाने नहीं जा सकती। विपक्ष के नेताओं ने प्रज्ञा ठाकुर स्वास्थ्य पर सवाल खड़े किए हैं।

यह भी पढ़ें :  राम मंदिर ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई एक और संपत्ति पर विवाद

यह भी पढ़ें :  नहीं रहीं बालिका वधू की ‘दादी सा’ 

वहीं इस मामले में राज्य प्रशासन ने कहा है कि, भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर “बुजुर्गों और विकलांगों” के लिए विशेष नियमों के तहत घरेलू टीकाकरण की हकदार थीं।

राज्य टीकाकरण अधिकारी संतोष शुक्ला ने एनडीटीवी को बताया, “नीति के अनुसार, बुजुर्गों और विकलांगों को उनके घरों के पास टीका लगाया जाएगा, उन्हें टीके की पहली खुराक देने में नियमों का उल्लंघन नहीं किया गया।”

लेकिन कांग्रेस ने प्रज्ञा ठाकुर की इस तरह की रियायत लेने के लिए आलोचना की है। कांग्रेस नेता नरेंद्र सलुजा ने ट्वीटर पर प्रज्ञा ठाकुर का वीडियो पोस्ट किया और लिखा, “अभी कुछ दिन पूर्व ही बास्केट बॉल खेल रही व ढोल की थाप पर नृत्य कर रही हमारी भोपाल की सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने आज घर टीम बुलाकर वैक्सीन का डोज लगवाया ? मोदीजी से लेकर शिवराजजी व तमाम भाजपा नेता अस्पताल में जाकर वैक्सीन लगवाकर आये लेकिन हमारी सांसदजी को यह छूट क्यों व किस आधार पर?”

यह भी पढ़ें : योगी सरकार ने शराब से की जबरदस्त कमाई, 74 फीसदी बढ़ा राजस्व 

यह भी पढ़ें : विदिशा में बड़ा हादसा, लड़की को बचाने में कुएं में गिरी भीड़, 4 की मौत

51 वर्षीय प्रज्ञा ठाकुर चिकित्सा आधार पर मालेगांव मामले में जमानत पर बाहर हैं। उन्होंने अपने स्वास्थ्य का हवाला देते हुए कई अदालती सुनवाई की गुहार लगाई है। उनके आलोचकों का कहना है कि उनके हालिया वीडियो उनके दावे को झुठलाते हैं।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com