Sunday - 29 January 2023 - 12:46 AM

अब बागी विधायकों के भरोसे है येदियुरप्पा की कुर्सी

न्यूज डेस्क

एक बार फिर कर्नाटक की राजनीति गरमा गई है। कर्नाटक की 15 विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने जा रहा है। यह चुनाव जीतना भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस के लिए भी महत्वपूर्ण है। फिलहाल सुप्रीम कोर्ट से उपचुनाव लडऩे की राहत मिलने के बाद गुरुवार को 17 बागी विधायकों में से 15 भाजपा में शामिल हो गए हैं।

कर्नाटक पार्टी मुख्यालय में आयोजित समारोह के दौरान इन नेताओं को भाजपा की सदस्यता दी गई। इस दौरान मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा व प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कटील भी मौजूद रहे।

पांच दिसंबर को 15 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में बीजेपी ने इन पूर्व विधायकों में से 13 को टिकट दे दिया है। दो सीटों (मस्की और राजराजेश्वरी विधानसभा) पर चुनाव इसलिए नहीं हो रहे हैं क्योंकि इनसे संबंधित याचिकाएं कर्नाटक हाईकोर्ट में विचाराधीन हैं।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा बागी विधायकों को उपचुनाव लडऩे की अनुमति देने के फैसले का स्वागत किया। येदियुरप्पा ने भरोसा जताया कि भाजपा पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव में सभी 15 सीटें जीतेगी। उन्होंने कहा, शीर्ष कोर्ट का फैसला पूर्व स्पीकर और सिद्धरमैया की साजिश के खिलाफ आया है।

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर अयोग्य घोषित बागी विधायकों ने भी खुशी जताई। जेडीएस से विधायक एएच विश्वनाथ ने कहा, यह फैसला हमारे लिए बहुत जरूरी है। हम इसका स्वागत करते हैं।

बढ़ सकती है येदियुरप्पा की मुश्किलें

मुख्यमंत्री येदियुरप्पा को अपनी सरकार बचाए रखने के लिए आगामी उपचुनाव में हर हाल में छह सीटों पर जीत दर्ज करनी होगी।
यदि बीजेपी छह सीटों पर जीत नहीं दर्ज कर पाती है तो येदियुरप्पा सरकार अल्पमत में आ जाएगी। वर्तमान में विधानसभा में बहुमत के लिए 104 विधायकों की जरुरत है जबकि भाजपा को 106 विधायकों का समर्थन प्राप्त है।

आगामी 15 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के बाद बहुमत का आंकड़ा बढ़कर 112 हो जाएगा। भाजपा को अपनी सरकार बचाने के लिए छह और विधायकों के समर्थन की जरुरत पड़ेगी।

कर्नाटक विधानसभा की मौजूदा स्थिति

कर्नाटक में विधानसभा की कुल 224 सीट है, जिसमें 17 सीट खाली है। वर्तमान में विधानसभा में कुल 207 विधायक हैं। वर्तमान में येदियुरप्पा सरकार को 104 बीजेपी विधायकों के अलावा दो अन्य विधायकों का समर्थन है। वहीं कांग्रेस के पास 66 और जेडीएस के पास 34 विधायक हैं। इसके अलावा एक अन्य है।

कांग्रेस का 12 सीट जीतने का दावा

12 नवंबर को कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने विश्वास जताया कि कर्नाटक में अगले महीने होने वाले उपचुनावों में उनकी पार्टी 15 विधानसभा सीटों में कम से कम 12 पर जीत हासिल करेगी।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने भाजपा और जद(एस) के बीच ‘आपसी तालमेल’ होने का संदेह जताया और स्पष्ट किया कि कांग्रेस पार्टी ‘ऑपरेशन कमल’ (विरोधी पार्टी के विधायकों को गलत तरीके से निशाना बनाना) जैसे किसी कृत्य में शामिल नहीं होगी। सिद्धारमैया, जो कांग्रेस विधायक दल के नेता भी हैं, ने कहा, ‘मैंने कहा है कि हम 12 सीटें जीतेंगे, अगर हम सभी 15 सीटें जीत गए तो आश्चर्य नहीं होना चाहिए।’

यह भी पढ़ें : इमरान की 15 अरब की बेड़ी को कैसे तोड़ेंगे नवाज

यह भी पढ़ें : ‘कसम खाता हूं, भाजपा ने बाला साहेब ठाकरे के कमरे में ’50-50′ का वादा किया था’ 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com