Friday - 25 September 2020 - 10:24 AM

सोना ही नहीं बल्कि चांदी भी तोड़ने वाली है रिकार्ड

जुबिली न्यूज डेस्क

कोरोना महामारी के बीच में सोना और चांदी की चमक बढ़ गई है। इन दोनों धातुओं की चमक में हर दिन इजाफा हो रहा है। सोने जहां हर दिन एक रिकार्ड तोड़ रही है तो वहीं चांदी भी 19 साल पुराने रिकार्ड को तोड़ने से महज चंद कदम दूर है।

सोना शुक्रवार को अपना पिछला रिकॉर्ड तोड़ते हुए 56000 के स्तर को भी पार कर गया। वहीं चांदी 76000 रुपये प्रति किलो के ऊपर चली गई है। देशभर के सर्राफा बाजारों में शुक्रवार को सोना 340 रुपये ऊपर 56254 रुपये प्रति 10 ग्राम पर खुला तो वहीं 2391 रुपये प्रति किलो की ऊंची छलांग लगाती हुई चांदी 76008 रुपये पर पहुंच गई है। यानि चांदी अब अपने 19 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ने से चंद कदम दूर है।

यह भी पढ़ें : श्रीलंका : संसदीय चुनाव में महिंदा राजपक्षे की पार्टी को बड़ी जीत

यह भी पढ़ें :  देश में बदतर हो रहे हालात, 21 दिन में मिले कोरोना के 10 लाख मरीज

 यह भी पढ़ें :  सुशांत सिंह: एससी में दायर हलफनामे में बिहार सरकार ने क्या कहा ?

 

मालूम हो कि 19 साल पहले 2001 में हाजिर बाजार में चांदी का भाव 77,000 रुपये प्रति किलो तक पहुंचा था। अब इस रिकार्ड को तोडऩे के करीब चांदी पहुंच गया है।

कोरोना महामारी में सबसे ज्यादा फायदा सोने और चांदी के निवेशकों के हुआ है। एक ओर जहां इस महामारी की वजह से उद्योग-धंधे बर्बाद होने के कगार पर पहुंच गए है तो वहीं सोना और चांदी की चमक बढ़ती जा रही है। पिछले चार माह के दौरान चांदी की कीमतें दोगुनी हो गई हैं। चांदी में निवेशकों को जोरदार मुनाफा हुआ है।

18 मार्च 2020 को रूष्टङ्ग पर चांदी की कीमतें 33,580 थी जो आज बढ़कर 76000 तक पहुंच गई है। वहीं विशेषज्ञों ने उम्मीद जतायी थी कि दीवाली तक चांदी 75 हजार पार कर जायेगी। दीवाली तो अभी बहुत दूर है चांदी ने एक सप्ताह में यह सफर तय कर लिया।

यह भी पढ़ें : जीसी मुर्मू बने देश के नये सीएजी 

यह भी पढ़ें :  मद्रास हाईकोर्ट ने पतंजलि पर क्यों लगाया 10 लाख का जुर्माना?

यह भी पढ़ें :  मुंबई में जबरन क्वारंटाइन किए गए बिहार के आईपीएस को बीएमसी ने छोड़ा

सोना और चांदी शुरु से सुरक्षित निवेश रहा है। पिछले छह माह से कोरोना महामारी की तबाही से लोग डरे हुए हैं। इसी कारण लोग सुरक्षित निवेश की तरफ रुख कर रहे हैं। सोना और चांदी शुरु से सुरक्षित निवेश रहा है। निवेश बढऩे की वजह से सोने और चांदी के भाव में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। इसके अलावा चीन-अमेरिका की तनातनी के बाद भी लोगों का रुख बुलियन की तरफ बढ़ा है। यही कारण है चांदी की कीमतों उछाल देखने को मिल रहा है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com