Saturday - 23 October 2021 - 12:45 PM

दैनिक भास्कर के कार्यालयों पर इनकम टैक्स की रेड

जुबिली न्यूज डेस्क

देश का चर्चित अखबार दैनिक भास्कर के कार्यालयों पर आज सुबह से सेंट्रल बोर्ड ऑफ डॉयरेक्ट टैक्सेज ने छापेमारी की है।

इस छापे की पुष्टि सीबीडीटी की प्रवक्ता सुरभि अहलूवालिया ने की है। सुरभि ने कहा, ”दैनिक भास्कर के कार्यालयों पर सीबीडीटी का ऑपरेशन जारी है। इस संबंध में अभी हम इतना ही बता सकते हैं।”

यह भी पढ़ें : आज से जंतर-मंतर पर चलेगी किसान संसद

यह भी पढ़ें : नहीं थम रहा रैना के बयान पर मचा बवाल, जानिए क्या कह रहे हैं लोग

हालांकि ये ऑपरेशन किस बारे में हैं यह बताने से सुरभि ने इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि ये अभी ये जानकारी सार्वजनिक नहीं की जाएगी।”

वहीं दैनिक भास्कर को भी नहीं पता है कि किस मामले में उनके यहां छापा पड़ा है। दैनिक भास्कर के नेशनल एडिटर लक्ष्मी प्रसाद पंत ने कहा, ‘जयपुर दफ्तर में कुछ टीमें पहुंची हैं। वो क्या जांच कर रहे हैं ये हमें अभी नहीं पता है। मैं दफ्तर पहुंच रहा हूं।’

यह भी पढ़ें :  भारत में कोरोना काल में एक लाख से अधिक बच्चों के सिर से उठा मां-बाप का साया  

यह भी पढ़ें :  अमेरिकी रिपोर्ट में दावा, भारत में कोरोना से करीब 50 लाख मौतें  

यह भी पढ़ें : मौतों की संख्या में बड़ा उछाल, 24 घंटे में 3998 लोगों की कोरोना से मौत  

मालूम हो कि दैनिक भास्कर भारत का चर्चित हिंदी अखबार है। कोरोना महामारी के दौरान दैनिक भास्कर ने कई कई खोजपरक खबरें प्रकाशित की, जिनमें सरकारों के कोविड प्रबंधन पर सवाल उठाए गए थे।

वहीं इस मामले में कांग्रेस नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर कहा कि आयकर विभाग के अधिकारी समूह के करीब छह परिसरों पर “मौजूद हैं”। इनमें राज्य की राजधानी भोपाल में प्रेस कॉम्प्लेक्स में उसका कार्यालय भी शामिल है।

बतातें चले कि इनकम टैक्स विभाग की ओर से यह कार्रवाई ऐसे समय में हुई है जब संसद का मॉनसून सत्र चल रहा है। पेगासस जासूसी मामले को लेकर विपक्षी दल सरकार पर लगातार हमलावर रहे हैं। विपक्षी सदस्यों ने पत्रकारों, नेताओं, मंत्रियों, न्यायाधीशों और अन्य लोगों की इजराइली पेगासस स्पाईवेयर से जासूसी कराए जाने के आरोपों पर दोनों सदनों में जमकर विरोध जताया था।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com