Friday - 21 January 2022 - 9:50 PM

हिमांशु की यह कार 30 रुपये में करायेगी 185 किलोमीटर का सफ़र

जुबिली न्यूज़ ब्यूरो

नई दिल्ली. मध्य प्रदेश के एक इंजीनियरिंग छात्र ने अपनी प्रतिभा का गज़ब नमूना पेश करते हुए एक ऐसी इलेक्ट्रिक कार तैयार कर दी है जो सिर्फ 30 रुपये के खर्च में 185 किलोमीटर का सफ़र करायेगी. यह फाइव सीटर कार है और इसे विंटेज कार का लुक दिया गया है.

सागर के रहने वाले हिमांशु भाई पटेल गुजरात के गांधीनगर में इंजीनियरिंग के छात्र हैं. हिमांशु ने दो लाख रुपये खर्च कर जो अनोखी कार तैयार की है उसकी बैटरी सिर्फ चार घंटे में फुल चार्ज हो जायेगी और एक बार चार्ज हो जाने के बाद यह 185 किलोमीटर का सफ़र तय करेगी. इसे चार्ज करने में 30 रुपये का खर्च आएगा.

हिमांशु ने बताया कि उन्होंने अपनी कार को इस तरह से तैयार किया है चलते वक्त गाड़ी की बैटरी चार्ज भी होती जाए लेकिन 185 किलोमीटर चल जाने के बाद इसे एक बार चार्ज करना पड़ेगा. उनके दिमाग में ऐसी कार बनाने की बात पेट्रोल और डीज़ल के आसमान छूते दाम देखकर आई. यह कार कम खर्च में ज्यादा दूर चलेगी और पर्यावरण भी सुरक्षित रहेगा.

हिमांशु की इस कार में स्पीडोमीटर में गाड़ी की स्पीड भी दिखती है और यह भी पता चलता है कि कितनी बैटरी बाकी है. इस कार को पचास किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चलाया जा सकता है. हिमांशु ने अपनी इस कार में एमसीबी बॉक्स भी लगाया है. इससे गाड़ी के जिस हिस्से में फाल्ट होगा उस हिस्से की एमसीबी गिर जायेगी. कार में सीट के नीचे बैटरी और बोनट के नीचे स्टेपनी लगाई गई है. यह रिमोट ओपरेटेड कार है.

हिमांशु ने ऑटोमोबाइल की दुनिया में एक बड़ा कारनामा अंजाम दे दिया है. अब वह अपने फार्मूले के साथ ऑटोमोबाइल कम्पनियों से सम्पर्क करेंगे. किसी कंपनी को यह फार्मूला जंच गया तो बहुत जल्दी लोगों को एक सस्ती और शानदार कार नसीब हो सकती है.

यह भी पढ़ें : अखिलेश यादव को परिणाम भुगतने की धमकी क्यों दे रहीं उमा भारती

यह भी पढ़ें : केशव मौर्या के विवादित बयान के समर्थन में आये साक्षी महाराज

यह भी पढ़ें : श्रीलंका के नागरिक को पाकिस्तान में हत्या के बाद जला दिया गया

यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : केशव बाबू धर्म का मंतर तभी काम करता है जब पेट भरा हो

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com