Thursday - 21 October 2021 - 12:14 AM

जर्मनी चुनाव : एंगेला मर्केल की पार्टी हारी, एसपीडी सबसे आगे

जुबिली न्यूज डेस्क

जर्मनी के आम चुनाव में सेंटर-लेफ्ट सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी (एसपीडी) ने जीत हासिल की है। वहीं एंगेला मर्केल  की पार्टी सीडीयू दूसरे नंबर पर रही। हालांकि शुरुआती नतीजों में वोटों का मार्जिन कम ही है।

जर्मनी में रविवार को नई संसद चुनने के लिए मतदान हुआ। शुरुआती आकलनों के अनुसार जर्मनी की नई संसद में 756 सीटें होंगी।

ताजा प्रोजेक्टेड नतीजों के अनुसार एसपीडी को 25.5 प्रतिशत, सीडीयू-सीएसयू को 24.5 प्रतिशत, ग्रीन पार्टी को 13.8 प्रतिशत, एफडीपी को 11.7 प्रतिशत, एएफडी को 10.9 प्रतिशत और डी लिंके को 5.0 प्रतिशत वोट मिले हैं।

आधिकारिक अंतिम परिणामों के देर रात तक आने की उम्मीद है। उसकी के साथ विभिन्न पार्टियों को मिलने वाली सीटों के बारे में भी स्थिति स्पष्ट होगी।

फिलहाल सरकार बनाने के लिए अब एक गठबंधन अनिवार्य होगा। नतीजे आने से पहले ही सपीडी नेता ओलाफ स्कोल्ज ने कहा था कि उनकी पार्टी को स्पष्ट जनादेश मिला है।

फिलहाल सरकार बनाने के लिए अब एक गठबंधन अनिवार्य होगा। नतीजे आने से पहले ही एसपीडी नेता ओलाफ स्कोल्ज ने कहा था कि उनकी पार्टी को स्पष्ट जनादेश मिला है।

नए नेता के सामने क्या होगी चुनौती?

एग्जिट पोल्स में भी एसपीडी और सीडीयू में कड़े मुकाबले की उम्मीद जताई गई थी लेकिन इस बार के चुनाव शुरुआत से लेकर आखिर तक अप्रत्याशित रहे हैं।

यह भी पढ़ें : अशोक गहलोत के भाई को ED ने इस मामले में पूछताछ के लिए बुलाया 

यह भी पढ़ें : विपत्ति की घड़ी में होगी क्वार्ड की अग्नि परीक्षा

यह भी पढ़ें :गोवा में चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, अब ये बड़े नेता छोड़ेंगे पार्टी

यह भी पढ़ें : किसानों के ‘भारत बंद’ के कारण धीमी हुई रफ्तार, जाम से बुरा हाल

हालांकि चुनाव के नतीजे आने के बाद भी अभी इस चुनाव का किस्सा खत्म नहीं होने वाला है क्योंकि एंगेला मर्केल तब तक नहीं जाने वाली हैं जब तक सत्ता के लिए गठबंधन नहीं बन जाता।

इसके लिए एंगेला को क्रिसमस तक का इंतजार भी करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें : पंचायत ने सुनाया फरमान ठेकेदार के रुपये लौटाओ या लड़की उसके हवाले करो

यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : यह जनता का फैसला है बाबू, यकीन मानो रुझान आने लगे हैं

फिलहाल मर्केल के उत्तराधिकारी को अगले चार वर्षों तक यूरोप की प्रमुख अर्थव्यवस्था का नेतृत्व करना है और जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर काम करना है।  ये मुद्दे जर्मनी के मतदाताओं के एजेंडे में सबसे ऊपर थे।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com