Tuesday - 30 November 2021 - 9:10 PM

Petrol Diesel Price में लगी आग, आज फिर बढ़ें दाम

जुबिली स्पेशल डेस्क

पेट्रोलियम उत्पादों के लगातार बढ़ते दाम से देश की जनता परेशान है। आए दिन पेट्रोल-डीजल का दाम बढ़ रहा है, जिसकी वजह से लोगों का बजट गड़बड़ा गया है।

सरकार से लगातार इस पर नियंत्रण की मांग की जा रही है, लेकिन सरकार कोई कदम नहीं उठा रही है। पहले से महंगाई की मार से परेशान लोगों को आज एक झटका लगा है। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों में फिर उछाल देखने को मिला है।

आम-आदमी सबसे ज्यादा परेशान पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से है। पेट्रोल की आसमान छूती कीमतों ने नया रिकॉर्ड बना दिया है।

इसी साल जुलाई में आजाद भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब देश के चारों महानगरों दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये के आंकड़े को पार कर गयी है।

इसके अलावा पिछले छह महीनों में खाद्य तेलों की कीमत भी दोगुनी हो गई है। इसके अलावा दूध, एलपीजी सिलेंडर, दालों की बढ़ी क़ीमतों ने भी आम आदमी की कमर तोड़कर रख दी है।

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन द्वारा गुरुवार, 14 अक्टूबर 2021 को पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कर दिए हैं और आज दिल्ली में पेट्रोल के भाव में 35 व डीजल में 35 पैसे का इजाफा हुआ है।

देश में ईंधन के भाव रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच चुके हैं। राजस्थान के श्रीगंगानगर में देश में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल बिक रहा है, तो पोर्ट ब्लेयर में सबसे सस्ता।

दिल्ली में पेट्रोल का दाम 104.79 रुपये जबकि डीजल का दाम 93.52 रुपये प्रति लीटर है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 110.75 रुपये व डीजल की कीमत 101.40 रुपये प्रति लीटर है।

यह भी पढ़ें : लखीमपुर हिंसा : मारे गए किसानों के ‘अंतिम अरदास’ में शामिल होंगी प्रियंका

यह भी पढ़ें : केंद्रीय मंत्री ने कहा-पेट्रोल-डीजल के कर के पैसे से लोगों को दी जा रही है फ्री वैक्सीन

यह भी पढ़ें : उपचुनाव के बाद जातीय जनगणना पर नीतीश लेंगे बड़ा फैसला

कोलकाता में पेट्रोल का दाम 105.43 रुपये जबकि डीजल का दाम 96.63 रुपये लीटर है। वहीं चेन्नई में भी पेट्रोल 102.10 रुपये लीटर है तो डीजल 97.93 रुपये लीटर है।

पेट्रोल-डीजल की कीमत आप एसएमएस के जरिए भी जान सकते हैं। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, आपको RSP और अपने शहर का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजना होगा। हर शहर का कोड अलग-अलग है, जो आपको आईओसीएल की वेबसाइट से मिल जाएगा।

बता दे कि जुलाई के पहले सात दिनों में अब तक चार बार ईंधन के दामों में बढ़ोतरी की जा चुकी है, जबकि जून में 16 बार ईंधन के दाम बढ़ाए गए थे।

जिस तरह ईंधन के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है, उससे नहीं लगता कि जनता को कोई राहत आने वाले दिनों में मिलने वाली है। महंगाई की मार से कराह रही जनता को लगातार महंगा ईंधन खरीदना पड़ रहा है लेकिन उसकी सुनने वाला कोई नहीं है।

 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com