Tuesday - 11 August 2020 - 9:01 PM

जब चीनी मीडिया ने भारत को मारा ताना तो महिंद्रा ने दिया ये जवाब

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। भारत में टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाने के बाद चीनी सरकार ही नहीं बल्कि वहां का मीडिया भी बौखला गया है। सोशल मीडिया पर वे अपनी भड़ास निकालने में लगे हुए हैं।

चीनी सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स के प्रधान संपादक ने ऐसा ही एक ट्वीट किया। लेकिन भारतीय उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने उन्हें ऐसा करारा जवाब दिया है, जिससे उनकी न केवल बोलती बंद हो गयी।

ये भी पढ़े: कहीं कांग्रेस के जरिए समाजवादी पार्टी को तो निशाना नहीं बना रही बीजेपी ?

ये भी पढ़े: Video : खाकी को चुनौती, दबंगों ने दौड़ा-दौड़ाकर महिलाओं को लाठियों से पीटा

https://twitter.com/anandmahindra/status/1277939258322370560?s=20

ग्लोबल टाइम्स के एटिडटर इन चीफ हू शिजिन ने चीनी एप्स पर बैन लगाने के बाद एक खबर को टैग करते हुए भारत पर तंज कसा। शिजिन ने लिखा, ‘खैर, भले ही चीनी लोग भारतीय उत्पादों का बहिष्कार करना चाहते हों, लेकिन वे वास्तव में कोई भारतीय सामान नहीं ढूंढ पा रहे हैं। भारतीय दोस्तों, आपको कुछ ऐसी चीजें चाहिए जो राष्ट्रवाद से ज्यादा महत्वपूर्ण हों।’

ये भी पढ़े: UPMSCL में फिर हो रहा करोड़ों का घोटाला

ये भी पढ़े: शिवराज सरकार को कांग्रेस ने बताया- खरीदी हुई, जुगाड़ वाली ‘आऊटसोर्स’ सरकार

ऐसे मामले में भारतीय कैसे पीछे रहते तब महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा आगे आये और उन्हें करारा जवाब देने में बिल्कुल भी देर नहीं की। इस ट्वीट का जवाब देते हुए आनंद महिंद्रा ने लिखा, ‘मुझे संदेह नहीं है कि यह प्रतिक्रिया भारतीय उद्योग के लिए सबसे प्रभावी और प्रेरक हो सकती है। हमें उकसाने के लिए आपका शुक्रिया, जल्द ही जवाब देंगे।’

भारत सरकार ने उन 59 मोबाइल एप को प्रतिबंधित किया है, जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरनाक थे।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को विभिन्न स्रोतों से इन एप्स को लेकर कई शिकायतें मिली थीं, जिनमें कई मोबाइल एप के दुरुपयोग की बाते थीं। ये एप आईफोन और एंड्रॉयड दोनों यूजर्स का डाटा चोरी कर रहे हैं। इन सभी एप्स का सर्वर भारत के बाहर है।

ये भी पढ़े: भारतीय सीमा पर और चौकसी बढ़ायेगा नेपाल

ये भी पढ़े: नवंबर तक गरीबों को मिलेगा मुफ्त अनाज : PM

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com