Sunday - 23 January 2022 - 2:12 AM

ओपिनियन

अनिवार्य हो गया है राजनीति का राष्ट्रीय मसौदा

देश में दलगत राजनीति ने एक नये विभाजन का स्वरूप गढना शुरू कर दिया है। नागरिकों की मानसिकता पर अब व्यक्तिवाद हावी होकर स्वार्थपरिता के हिंडोले पर झूलने लगा है। परिवादवाद पर आधारित पार्टियों के मध्य जनसेवकों की समाजसेवा का स्वरूप चाटुकारिता के रूप में परिवर्तित हो गया है। व्यक्तिगत …

Read More »

तो 2022 में भी 2017 वाले एजेंडे के भरोसे ही रहेगी भाजपा

उत्कर्ष सिन्हा यूपी विधानसभा के चुनावो की तपिश जैसे जैसे बढ़ती जा रही है , वैसे वैसे सियासी पार्टियाँ अपने चुनावी एजेंडे को तय करने की और बढ़ती जा रही हैं. यूपी के कांग्रेस के तीन दशकों के वनवास को ख़त्म करने में जुटी प्रियंका गाँधी ने महिलाओं के लिए …

Read More »

क्यों क्षेत्रीय दलों से दूरियां बना रही कांग्रेस !

नवेद शिकोह पश्चिम बंगाल में टीएमसी की जीत के बाद के राजनीतिक समीकरण भांपते हुए कांग्रेस ने क्षेत्रीय दलों से दूरी बनाकर एकला चलो पर अमल करने का फैसला किया है। अब वो आत्मनिर्भर बनकर अकेले चलने की रणनीति बना रही है। इस मुहिम में कांग्रेस के साथ किसान आंदोलन …

Read More »

बांग्लादेश में हिंसा के शिकार हिंदू अल्पसंख्यकों को मिला संघ का साथ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से आप अनेक मुद्दों पर असहमत हो सकते हैं परंतु उसकी इस बात के लिए भूरि भूरि प्रशंसा की जानी चाहिए कि भारत के पड़ोसी देश बंगला देश में कट्टरपंथियों द्वारा वहां के अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय को अपनी हिंसात्मक गतिविधियों का निशाना बनाए जाने की सिलसिलेवार घटनाओं …

Read More »

बगैर कांग्रेस के किसी अलायंस की रणनीति तो नहीं बना रहे PK ?

यशोदा श्रीवास्तव अपने गोवा दौरे के समय प.बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी का यह बयान हैरान करने वाला है कि कांग्रेस की वजह से भाजपा मजबूत हो रही है। ममता के इस दावे में कितना दम है और कितनी सच्चाई यह हम नहीं तय कर सकते लेकिन …

Read More »

यूपी की चुनावी राजनीति में पूरब भारी पड़ेगा या पश्चिम ?

उत्कर्ष सिन्हा बीते 3 चुनावों से यूपी में भाजपा के विजय रथ को तेजी देने वाले पश्चिमी यूपी का मिजाज जैसे जैसे सरकार विरोधी हुआ है , वैसे वैसे भाजपा ने पूरब की तरफ ज्यादा ताकत लगाना शुरू कर दिया है । इस बात का अंदाजा ऐसे ही लगता है …

Read More »

अरविंद केजरीवाल को भी याद आए भगवान राम

सात साल से राजनीति में सक्रिय पर अयोध्या से रहे दूर अन्ना सरीखे तमाम लोगों को अपने हक में इस्तेमाल करने वाले केजरीवाल का चुनावी पैतरा 26 अक्टूबर को अयोध्या दौरे पर सीएम केजरीवाल  राजेन्द्र कुमार   लखनऊ। अपने देश में चुनाव आते ही तमाम बड़े बड़े नेताओं को भगवान की …

Read More »

पत्रकारों को नोबेल सम्मान से गौरवान्वित पत्रकार बिरादरी

कृष्णमोहन झा  नोबेल पुरस्कारों से वैज्ञानिकों, चिकित्सकों, साहित्यकारों और समाज सेवा आदि के क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान करने वाली विभूतियों को सम्मानित किए जाने की खबरें तो हर वर्ष सुनाई देती हैं परंतु पत्रकारिता के क्षेत्र में विशिष्ट पहचान बनाने वाले कलम के सिपाहियों को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किए …

Read More »

काबुल का फ़ितना : महाशक्तियों का पुराना अखाड़ा और नया खेल

जावेद अनीस तालिबान वापस आ गये हैं, इस बार पहले से अधिक मजबूती, स्वीकार्यता और वैधता के साथ. नाइन इलेवन के ठीक पहले उनकी यह वापसी उसी अमरीका से समझौते के बाद हुयी है जिसने 2001 में उन्हें सत्ता से बेदखल किया था. तालिबान के इस जीत की मुद्रा दुनिया …

Read More »

लोहिया ने मंत्री पद स्वीकार कर लिया होता तो कौन बताता कि विपक्ष भी कुछ होता है

12 अक्टूबर को डॉ राममनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर डा. सी पी राय इस देश के अनोखे नेता डॉ राममनोहर लोहिया को हम याद करते है। वहीं डॉ लोहिया जिसने उस वक्त जर्मनी से अर्थशास्त्र में पीएचडी किया जब हिटलर उभर रहा था और उनके अपने विचारों के कारण उनके …

Read More »
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com