Tuesday - 7 December 2021 - 10:37 AM

ओपिनियन

ओमिक्रान की दस्तक के पहले ही सतर्क हो जाएं हम

कृष्णमोहन झा लगभग दो साल पहले चीन की एक प्रयोगशाला से निकल कर दुनिया भर में तबाही मचाने वाले कोरोनावायरस के अब तक कई स्वरूप सामने आ चुके हैं और अब दक्षिण अफ्रीका में इसका एक और वेरिएंट सामने आया है जिसे ओमिक्रान नाम दिया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन …

Read More »

UP के चुनावों में डार्क हॉर्स साबित हो सकती है बसपा

मुगालते में हैं मायावती को खारिज करने वाले अपने सॉलिड वोट बैंक के नाते आज भी सपा से बीस है बसपा राजेंद्र कुमार लखनऊ . उत्तर प्रदेश में चुनावी सक्रियता ने अब जोर पकड़ लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिलों का दौरा कर जनता से सीधे संवाद बना रहे हैं। …

Read More »

BJP के मुकाबले विपक्ष का चेहरा बनना चाहती हैं ममता?

लेकिन भारत के सभी प्रदेशों में इनकी स्वीकार्यता पर सवाल भी! यशोदा श्रीवास्तव दिल्ली में प.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कांग्रेस सहित विपक्ष के तमाम नेताओं को अपने आंचल में जगह दे रही हैं। जिन दलों के विस्थापित लोग टीएमसी ज्वाइन कर रहे हैं,उन दलों को शायद इसकी परवाह न …

Read More »

भारत में द्वि-ध्रुवीकृत वर्चस्व राजनीतिक दलों का उभार

प्रो. रिपु सूदन सिंह भारतीय लोकतन्त्र एक बड़े परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है जिसमे संयुक्त राज्य अमेरिका व अन्य विकसित प्रजातांत्रिक देशों की तरह यहा भी दलों का द्वि-धुर्वीकरण हो रहा है। उत्तर प्रदेश का आगामी चुनाव प्रदेश के साथ साथ 2024 के लोक सभा के चुनाव पर …

Read More »

अनिवार्य हो गया है राजनीति का राष्ट्रीय मसौदा

देश में दलगत राजनीति ने एक नये विभाजन का स्वरूप गढना शुरू कर दिया है। नागरिकों की मानसिकता पर अब व्यक्तिवाद हावी होकर स्वार्थपरिता के हिंडोले पर झूलने लगा है। परिवादवाद पर आधारित पार्टियों के मध्य जनसेवकों की समाजसेवा का स्वरूप चाटुकारिता के रूप में परिवर्तित हो गया है। व्यक्तिगत …

Read More »

तो 2022 में भी 2017 वाले एजेंडे के भरोसे ही रहेगी भाजपा

उत्कर्ष सिन्हा यूपी विधानसभा के चुनावो की तपिश जैसे जैसे बढ़ती जा रही है , वैसे वैसे सियासी पार्टियाँ अपने चुनावी एजेंडे को तय करने की और बढ़ती जा रही हैं. यूपी के कांग्रेस के तीन दशकों के वनवास को ख़त्म करने में जुटी प्रियंका गाँधी ने महिलाओं के लिए …

Read More »

क्यों क्षेत्रीय दलों से दूरियां बना रही कांग्रेस !

नवेद शिकोह पश्चिम बंगाल में टीएमसी की जीत के बाद के राजनीतिक समीकरण भांपते हुए कांग्रेस ने क्षेत्रीय दलों से दूरी बनाकर एकला चलो पर अमल करने का फैसला किया है। अब वो आत्मनिर्भर बनकर अकेले चलने की रणनीति बना रही है। इस मुहिम में कांग्रेस के साथ किसान आंदोलन …

Read More »

बांग्लादेश में हिंसा के शिकार हिंदू अल्पसंख्यकों को मिला संघ का साथ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से आप अनेक मुद्दों पर असहमत हो सकते हैं परंतु उसकी इस बात के लिए भूरि भूरि प्रशंसा की जानी चाहिए कि भारत के पड़ोसी देश बंगला देश में कट्टरपंथियों द्वारा वहां के अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय को अपनी हिंसात्मक गतिविधियों का निशाना बनाए जाने की सिलसिलेवार घटनाओं …

Read More »

बगैर कांग्रेस के किसी अलायंस की रणनीति तो नहीं बना रहे PK ?

यशोदा श्रीवास्तव अपने गोवा दौरे के समय प.बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी का यह बयान हैरान करने वाला है कि कांग्रेस की वजह से भाजपा मजबूत हो रही है। ममता के इस दावे में कितना दम है और कितनी सच्चाई यह हम नहीं तय कर सकते लेकिन …

Read More »

यूपी की चुनावी राजनीति में पूरब भारी पड़ेगा या पश्चिम ?

उत्कर्ष सिन्हा बीते 3 चुनावों से यूपी में भाजपा के विजय रथ को तेजी देने वाले पश्चिमी यूपी का मिजाज जैसे जैसे सरकार विरोधी हुआ है , वैसे वैसे भाजपा ने पूरब की तरफ ज्यादा ताकत लगाना शुरू कर दिया है । इस बात का अंदाजा ऐसे ही लगता है …

Read More »
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com