Friday - 25 June 2021 - 12:01 AM

मान्यता समिति ने सीएम से कहा शुक्रिया मगर पत्रकारों के लिए पेंशन को बताया सबसे जरूरी

प्रमुख संवाददाता

लखनऊ. उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति ने पत्रकारों की आकस्मिक मृत्यु पर 10 लाख रुपये की सहायता और स्वास्थ्य बीमा के लिए पांच लाख रुपये के एलान के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आभार व्यक्त किया है. समिति ने सरकार से इस राशि को बढ़ाने की मांग की है.

उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के अध्यक्ष हेमंत तिवारी ने कहा है कि प्रदेश के पत्रकारों के लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी पेंशन है जिसके संदर्भ में जल्द से जल्द एलान किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि देश के अधिकांश राज्य पत्रकारों को पेंशन दे रहे हैं जबकि उत्तर प्रदेश में इस संदर्भ में अब तक कोई फैसला नहीं लिया गया है. उन्होंने कहा कि समिति ने बीते आठ सालों में दर्जनों पत्र लिखकर व मौखिक वार्ता कर पेंशन दिए जाने का अनुरोध किया है.

मान्यता समिति के अध्यक्ष हेमंत तिवारी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अजय श्रीवास्तव व कोषाध्यक्ष ज़फर इरशाद ने आज आकस्मिक मृत्यु की दशा में सहायता राशि व स्वास्थ्य बीमा के एलान का स्वागत करते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए इस राशि को दोगुना किए जाने की ज़रूरत है. समिति के पदाधिकारियों ने कहा कि मान्यता प्राप्त पत्रकार की मृत्यु होने की दशा में कम से कम 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता परिजनों को दी जानी चाहिए. इस सुविधा का लाभ गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों व डेस्क कर्मियों के परिजनों को भी दिए जाने की जरुरत है.

यह भी पढ़ें : बिहार चुनाव का एलान, इन तारीखों में पड़ेंगे वोट

यह भी पढ़ें : मुश्किल में दीपिका, पति का क्या है स्टैंड

यह भी पढ़ें : तो इस वजह से विराट कोहली पर लगा 12 लाख रूपये का जुर्माना

यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : वीर बहादुर का सपना पूरा कर रहे हैं योगी

समिति ने कहा कि आज की दशा में चिकित्सा पर होने वाले भारी खर्च को देखते हुए राज्य सरकार को पांच लाख रुपये की जगह कम से कम दस लाख रुपये के स्वास्थ्य बीमा का एलान करना चाहिए. समिति पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि आर्थिक सहायता राशि बढ़ाने, स्वास्थ्य बीमा कवर बढ़ाने और पेंशन जैसी ज़रूरी मांगों पर अविलंब विचार किया जाए.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com