Wednesday - 8 February 2023 - 2:41 AM

तो क्या नाम बदलने के लिए याद किए जायेंगे योगी आदित्यनाथ

न्यूज डेस्क

योगी सरकार के ढ़ाई साल बीत चुके हैं और इतना ही बाकी है। योगी सरकार को लेकर एक बड़ा सवाल-ढ़ाई साल बाद योगी सरकार किस लिए याद की जायेगी? अखिलेश यादव आगरा एक्सप्रेस-वे, मेट्रो और राजधानी के रिवर फ्रंट के लिए आज भी याद किए जाते हैं, पर योगी किसलिए याद किए जायेंगे? योगी सरकार का कोई बड़ा काम तो सामने है नहीं, हां कुछ जिलों के नाम बदले गए हैं, तो क्या वह उनके लिए याद किए जायेंगे? इसके अलावा एक काम के लिए उनको याद किया जा सकता है। वो है हर चीज का भगवाकरण। इस भगवाकरण को हमे अलग-अलग संज्ञाओं, हर्ष और सर्वनामों से परिभाषित करना पड़ेगा।

योगी आदित्यनाथ जब सत्ता में आए थे तो खूब चर्चा में रहे। ताबड़तोड़ बूचडख़ाने बंद करावाए, रोमियो स्कॉएड का गठन किया और कई जगहों पर औचक निरीक्षण किया। ताबड़तोड़ फैसलों की वजह से योगी आदित्यनाथ से लोगों की उम्मीदें भी बढ़ी। लोगों को उम्मीद थी कि आगे और बदलाव देखने को मिलेगा, लेकिन ऐसा कुछ हुआ नहीं।

योगी आदित्यनाथ सबसे ज्यादा चर्चा में तब आए जब उन्होंने उत्तर प्रदेश के कई शहरों का नाम बदलने का फैसला किया था। एक बार फिर योगी चर्चा में हैं। इस बार वह डायल 100 का नाम बदलने की वजह से चर्चा में हैं। यूपी में लोगों को अब पुलिस सहायता के लिए 100 की जगह 112 नंबर डायल करना होगा। 26 अक्टूबर से यूपी पुलिस का 100 नंबर बंद हो जाएगा। इसके बाद से पुलिस का इमरजेंसी कॉल नंबर 112 होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नए नंबर का शुभारंभ करेंगे।

अपने ढ़ाई साल के कार्यकाल में योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के शहरों, चौराहों का नाम बदलने के साथ कई योजनाओं का भी नाम बदला है जो काफी चर्चा में रहा था। योगी सरकार ने मुगलसराय स्टेशन और शहर का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय रखा है। इसके अलावा फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया। इसी तरह से तरह इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया गया।

इसके अलावा योगी सरकार ने इकाना स्टेडियम, शादी अनुदान योजना, हजरतगंज चौराहा, एंबुलेंस सेवा, वीआईपी शहरों की लिस्ट में बदलाव किया। अखिलेश सरकार की शादी अनुदान योजना का नाम बदल कर अब कन्यादान योजना कर दिया गया।

सत्ता में जब भी कोई सरकार आती है तो बदलाव करती है। पूर्व सरकार की योजनाओं को बंद करने से लेकर और भी बदलाव किए जाते हैं। योगी सरकार ने अखिलेश सरकार की योजनाओं को बंद किया और कई का नाम बदला। डायल 100 भी उसी कड़ी में है। डायल 100 अखिलेश यादव का ड्रीम प्रोजेक्ट था। इस प्रोजेक्ट के लिए अखिलेश सरकार की खूब वाहवाही हुई थी, लेकिन योगी सरकार ने एक बार फिर बदलाव कर सवाल खड़ा कर दिया कि उनकी सरकार भी कोई नई योजना शुरु करेगी या सिर्फ योजनाओं का नाम ही बदलती रहेगी।

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान भागने की फ़िराक में हैं कमलेश तिवारी के हत्यारे!

यह भी पढ़ें : ऐसा हुआ तो डीएम और एसपी के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई : सीएम योगी

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com