Saturday - 18 September 2021 - 1:05 PM

कोरोना से भारत में क्यों हुईं सबसे ज्यादा मौतें

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली. कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक सुनाई देने लगी है. इस दस्तक से डरे सहमे लोगों के बीच वह रिपोर्ट भी आने वाली है जिसमें वह कारण गिनाये गए हैं जिसकी वजह से भारत में इतनी ज्यादा मौतें हुईं. द लैंसेट की रिपोर्ट के मुताबिक़ भारत में डायबिटीज़ और ब्लड प्रेशर की बीमारी ने कोरोना महामारी को और भी ज्यादा भड़का दिया.

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में मध्यम वर्ग में उनकी जीवन शैली की वजह से हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज़ ने लोगों के बीच अपना घर बना लिया. कोरोना वायरस आया तो उसने इस तरह की बीमारियों में जकड़े हुए लोगों पर ज्यादा तेज़ी से हमला किया. यही वजह है कि भारत में कोरोना संक्रमित लोगों के बीच पहले से पल रही उनकी बीमारियाँ ज्यादा घातक साबित हुईं.

यह भी पढ़ें : राम मन्दिर को उड़ाने की साज़िश नाकाम

यह भी पढ़ें : कोरोनाकाल में एक दिन भी रुकने नहीं दी इन लड़कियों की पढ़ाई

यह भी पढ़ें : पुलिस का ज़ुल्म बर्दाश्त नहीं सरकार फ़ौरन गाइडलाइन जारी करे

यह भी पढ़ें : ताज़िया फाड़े जाने से नाराज़ लोगों ने घेरी कोतवाली, तनाव बढ़ा तो दरोगा हुआ लाइन हाज़िर

इस रिसर्च में यह पाया गया है कि कोरोना से होने वाली मौतों में 5.7 फीसदी मौतें उनकी हुईं जो डायबिटीज़ और ब्लड प्रेशर के मरीज़ थे. कोरोना जांच से गुजरने वाले चार लाख लोगों के आंकड़ों को इस रिसर्च का आधार बनाया गया है. रिसर्च में यह पाया गया है कि भारत में कोरोना से हो रही मौतों की संख्या पर तो ध्यान केन्द्रित किया गया लेकिन डायबिटीज़ और ब्लड प्रेशर के रोगियों को इससे ज्यादा सावधान रहने की सलाह भी नहीं दी गई. भारत में कोरोना ने करीब 50 लाख लोगों की जानें ली हैं.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com