Monday - 27 September 2021 - 12:13 AM

कोरोना को लेकर चीन की यह रिसर्च उड़ा देगी दुनिया की नींद

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली. चीन के शोधकर्ताओं ने यह कहकर पूरी दुनिया को चौंका दिया है कि चमगादड़ों में 24 तरीके के कोरोना वायरस पाए जाते हैं. जिस दौर में दुनिया भर में इस बात को लेकर बहस छिड़ी है कि कोरोना की शुरुआत कहाँ से हुई थी और कौन है इसका असली ज़िम्मेदार वहीं चीन के शोधकर्ताओं ने बताया है कि चमगादड़ों में उन्हें एक नये प्रकार का कोरोना वायरस मिला है जो कोविड-19 से काफी मिलता जुलता है. शोधकर्ताओं का दावा है कि वह अब तक 24 प्रकार के कोरोना वायरस ढूंढ चुके हैं.

शोधकर्ताओं का कहना है कि चमगादड़ इंसानों को संक्रमित कर सकते हैं. शानडोंग यूनीवर्सिटी के शोधकर्ताओं की रिपोर्ट Cell नाम के जनरल में प्रकाशित हुई है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि हमने 24 प्रकार के कोरोना वायरस इकठ्ठा किये हैं. यह सैम्पल मई 2019 से नवम्बर 2020 के बीच जंगलों में रहने वाले चमगादड़ों से जमा किये गए हैं.

शोधकर्ताओं ने बताया कि उन्हें हाल में एक ऐसा सैम्पल मिला है जो कोविड-19 से काफी मिलता-जुलता है और कोविड-19 की तरह से ही दुनिया में तबाही मचा सकता है. इस वायरस का स्ट्रक्चर बिलकुल वैसा ही है.

यह भी पढ़ें : मछली के लिए एक दूसरे के खून के प्यासे हो गए बाराती

यह भी पढ़ें : अगर आप ज्योतिष या पुरोहित बनना चाहते हैं तो यह खबर आपके लिए है

यह भी पढ़ें :पाकिस्तान असेम्बली में पारित इस विधेयक से भारत के लिए जगी उम्मीद की किरण

यह भी पढ़ें :… और पुलिस ने ध्वस्त कर दिया एक मन्दिर

अमेरिका लगातार चीन के वुहान शहर की लैब पर यह इल्जाम लगाता रहा है कि कोरोना की उत्पत्ति वहां से हुई थी लेकिन चीन के शोधकर्ताओं की इस रिपोर्ट पर अगर भरोसा किया जाए तो इससे पूरी दुनिया की नींद उड़ सकती है.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com