Saturday - 16 January 2021 - 2:02 PM

वाशिंगटन में और ज्यादा हिंसा भड़कने की आशंका

जुबिली न्यूज डेस्क

अमेरिकी संसद भवन कैपिटॉल में ट्रंप समर्थकों के घुसने के बाद देश लोकतंत्र को लेकर शर्मसार हुआ है। इसको लेकर राष्ट्रपति ट्रंप को लेकर अमेरिका के लोगों में नाराजगी है। इतना कुछ होने के बाद भी अभी हिंसा की आशंका कम नहीं हुई है।

दरअसल ट्रंप पर डेमोक्रेटिक पार्टी को बिल्कुल भरोसा नहीं है। ऐसी आशंका जतायी जा रही है कि 20 जनवरी को जो बाइडेन प्रशासन के उद्घाटन के पहले वाशिंगटन में और ज्यादा हिंसा भड़क सकती है।

एफबीआई की एक आतंरिक रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि आने वाले सप्ताहांत और 20 जनवरी के बीच राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के समर्थक हथियारों के साथ सभी 50 राज्यों में प्रदर्शन कर सकते हैं।

उद्घाटन के पहले अमेरिका के एक्टिंग होमलैंड सुरक्षा के सचिव चैड वूल्फ ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है, जबकि वूल्फ को ही उदघाटन के दिन सुरक्षा के इंतजाम की देखरेख करनी थी।

 

एक्टिंग होमलैंड सुरक्षा विभाग कई कानून प्रवर्तन एजेंसियों का निरीक्षण करता है, जिनमें व्हाइट हाउस और राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार सीक्रेट सर्विस भी शामिल है।

वहीं इस्तीफा देेने पर वूल्फ ने कहा है कि वो कार्य-विधि संबंधी कारणों से इस्तीफा दे रहे हैं। उन्होंने फेडरल इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी के प्रशासक पीट गैनोर का नाम अगले सचिव के लिए मनोनीत किया, बावजूद इसके उदघाटन के पहले और उसके दौरान राजधानी की सुरक्षा को लेकर उठे सवाल शांत नहीं हुए।

यह भी पढ़ें : देशभर के लिए कोविशील्ड वैक्सीन की पहली खेप सीरम इंस्टीट्यूट से रवाना 

वहीं व्हाइट हाउस ने भी अपने एक बयान में कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने “कोलंबिया जिले में आपात काल की घोषणा कर दी है और 59वें राष्ट्रपति के उदघाटन की वजह से 11 जनवरी से 24 जनवरी, 2021 तक लागू आपात काल को देखते हुए जिले के प्रयासों में केंद्र की तरफ से मदद के भी आदेश दिए हैं।”

 

व्हाइट हाउस के अनुसार यह आदेश होमलैंड सुरक्षा विभाग को “लोगों की जान और संपत्ति की रक्षा के लिए और जन स्वास्थ्य और सुरक्षा के हित में कदम उठाने और कोलंबिया जिले में दुर्घटना के खतरे को कम करने या उससे बचने के लिए कदम उठाने को” अधिकृत करता है।

इस बीच फेडरल और वॉशिंगटन प्रशासन दोनों ही स्तरों पर अधिकारी पिछले बुधवार कैपिटल हिल पर हुए घटनाक्रम के लिए एक दूसरे पर उंगलियां उठा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : ‘गौ-विज्ञान परीक्षा’ से जुड़ा ‘मटीरियल’ आयोग की वेबसाइट से गायब 

यह भी पढ़ें :  क्या सत्ता से बेदखल कर दिए जाएंगे ट्रंप?

पेंटागन ने सोमवार को कहा कि उसने शपथ समारोह के लिए नेशनल गार्ड्स के 15,000 सैनिकों को तैनात करने की अनुमति दे दी है तो वहीं सुरक्षा विभाग के नेशनल गार्ड ब्यूरो के प्रमुख जनरल डेनियल होकान्सन ने कहा कि 6,200 सैनिक पहले से वॉशिंगटन में तैनात हैं और आने वाले सप्ताहांत तक 10,000 और सैनिक तैनात किए जाने की योजना है।

उन्होंने यह भी कहा कि उदघाटन के दिन तक 5,000 और सैनिक तैनात किए जा सकते हैं। उनके पास दंगा-विरोधी उपकरण और हथियार भी होंगे लेकिन अभी तक उन्हें राजधानी की सड़कों पर हथियार उठाने के लिए अधिकृत नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें : शुभेंदु अधिकारी को टीएमसी ने दिया झटका

यह भी पढ़ें :  पूर्वांचल में ओवैसी का मुस्लिम-राजभर समीकरण किसे पहुंचाएगा नुकसान

वाशिंगटन में उद्घाटन की तैयारियां तेजी से हो रही हैं। बाइडेन के शपथ ग्रहण समारोह से पहले कैपिटल के मैदानों के चारों तरफ सुरक्षा बाड़ खड़ी कर दी गई है। देश के नागरिकों से अपील की गई है कि वो समारोह को देखने के लिए वॉशिंगटन ना आएं, और वर्चुअल तरीके से ही समारोह को देखें।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com