Wednesday - 8 February 2023 - 11:33 PM

शूलों की सेज़ सा,आशिक़ का मकान होता है….!!

शूलों की सेज़ सा,आशिक़ का मकान होता है….!!

मोहब्बत का सफ़र कहाँ आसान होता है|
हासिल हो,तो ख़िलाफ़ सारा जहाँन होता है||

सिसकियों की ईंट पर, हादसों की खिड़कियां
शूलों की सेज़ सा,आशिक़ का मकान होता है||

ज़िन्दगी निकलती है ,जब समंदर की सैर पर
तब वहीँ नाँव से लिपटा,कोई तूफ़ान होता है||

जिसने जिस्म बेच दिया हो बच्चे की भूख पर
उस माँ के अंदर ,ज़िंदा कोई इंसान होता है ||

खो जाती है अक्सर,पिता के दवा की पर्चियां
जिन बेटोँ के पास,करोड़ो का सामान होता है||

रवि सिंह रैकवार
रवि सिंह रैकवा

 

 

 

 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com