Monday - 27 September 2021 - 12:34 AM

इस राज्य में आज से खुले स्कूल और कॉलेज

जुबिली न्यूज डेस्क

बिहार में आज से स्कूल-कॉलेज खुल रहे हैं। 50 फीसदी उपस्थिति के साथ आज से ग्यारहवीं-बारहवीं के सभी स्कूल, सभी डिग्री कालेज, सभी सरकारी व निजी विश्वविद्यालय और तकनीकी शिक्षण संस्थान खुल जायेंगे।

98 दिनों के बाद ये शैक्षणिक संस्थान छात्रों के अध्ययन-अध्यापन से गुलजार होंगे। दरअसल कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए 3 अप्रैल को हुई क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में राज्य सरकार ने 5 अप्रैल से सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का निर्णय लिया था।

अब चूंकि कोरोना की रफ्तार धीमी हो गई इसलिए सरकार ने ऐसा निर्णय लिया है। 5 जुलाई को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई सीएमजी की बैठक में 12 जुलाई से 10वीं से ऊपर के सभी संस्थानों को आधी क्षमता के साथ खोलने का निर्णय लिया गया है।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने 6 जुलाई को सभी जिलाधिकारी, सभी कुलपति और सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों के लिए विस्तृत गाइडलाइन जारी किया। शैक्षणिक संस्थानों का संचालन विद्यार्थियों की सुरक्षा को सर्वोपरि रखते हुए तथा कोरोना को लेकर जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए किया जाएगा।

छात्रों व शिक्षकों में खुशी

स्कूलों के शुरु होने को लेकर विश्वविद्यालय, कालेज व स्कूल प्रबंधन के साथ ही विद्यार्थियों व शिक्षकों में काफी खुशी है। सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक सभी संस्थानों व स्कूलों ने अपने कैम्पस, सभी भवनों, फर्नीचर, उपकरणों, भंडारकक्ष, पानी टंकी, किचेन, वाशरूम, प्रयोगशाला, लाइब्रेरी आदि की साफ-सफाई कराई है तथा इन्हें विसंक्रमित किया गया है।

यह भी पढ़ें :  लालू के इस कदम से बिहार में बढ़ी सियासी सरगर्मी

इन निर्देशों करना होगा पालन

कॉलेज खोलने को लेकर जो गाइडलाइन जारी की गई है उसके मुताबिक कक्षाओं में विद्यार्थी के बीच कम से कम छह फीट की दूरी होगी। इसी दूरी के साथ बैठने की व्यवस्था की जाएगी। स्टाफ रूम, कार्यालय कक्ष, आगत कक्ष में भी यह दूरी रखनी होगी।

यह भी पढ़ें : WOW ! चौथी बार भारत के कदम पड़े अंतरिक्ष में, जानिए कौन हैं Sirisha Bandla

यह भी पढ़ें : CM योगी थोड़ी देर में जारी करेगी नई जनसंख्या नीति, जानें इसके बारे में सबकुछ

संस्थान व कॉलेज के सभी गेट आगमन व प्रस्थान के समय खोलकर रखने होंगे। आने-जाने के लिए अलग-अलग गेट चिन्हित किये जायेंगे। वैसे शैक्षणिक संस्थान या विद्यालय जहां नामांकन अधिक हैं, दो पालियों में संचालित किये जायेंगे।

कॉलेज समारोह, त्योहार आदि के आयोजन से बचेंगे। विद्यालय एसेम्बली कक्षाओं में ही वर्ग शिक्षक की देख-रेख में सामाजिक दूरी का पालन करते हुए होंगी। अभिभावक-शिक्षक बैठक वर्चुअल करने का निर्देश दिया गया है।

2020 में 265 दिन पर खुले थे हाईस्कूल-प्लसटू

साल 2020 में कोरोना संक्रमण की पहली लहर के कारण राज्य के सभी स्कूल, कालेज, शिक्षण संस्थान 14 अप्रैल 2020 से ही बंद कर दिए गए थे। 23 सितम्बर से 33 फीसदी छात्रों के साथ माध्यमिक-उच्च माध्यमिक की मार्गदर्शन कक्षाएं कहने को तो खुलीं लेकिन छात्र नहीं आए।

यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : हुकूमत क्या सिर्फ तमाशा देखने के लिए है

यह भी पढ़ें : आकाशीय बिजली का कहर : यूपी, राजस्थान और एमपी में गई 68 लोगों की जान

इसके अलावा हाईस्कूल-इंटर के बच्चों के लिए स्कूल 265 दिन बाद 4 जनवरी 2021 से ही खोले जा सके। 8 फरवरी 2021 से मध्य जबकि 1 मार्च 2021 से प्राथमिक स्कूल खुले थे। सभी प्रकार के स्कूल आधी उपस्थिति के साथ ही खुले थे। 3 अप्रैल 2021 तक ही स्कूलों का संचालन हो सका। 4 अप्रैल को रविवार था और 5 अप्रैल से ये बंद थे।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com