Saturday - 11 July 2020 - 10:09 PM

मां-बेटी की हत्या के बाद किया रेप, आवाज आई तो जग गया पति…

न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। 24 नवंबर की रात हुए तिहरे हत्याकांड का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। हत्यारे ने खुद की हवस मिटाने के लिए न केवल तीन लोगों की हत्या व दो लोगों को घायल किया बल्कि मृत महिला और उसकी नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म भी किया।

घायल के बयान और विवेचना दौरान सबूत एकत्र करने के बाद पुलिस ने आरोपी को घर से गिरफ्तार कर लिया। वहीं आरोपी ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के मुबारकपुर थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर गांव निवासी एक युवक गांव के बाहर बने मकान में रहता था। 24 नवंबर की रात युवक उसकी पत्नी व चार माह की पुत्री की बेरहमी से हत्या कर दी गयी थी। जबकि मृतक की 10 वर्षीय पुत्री व 4 वर्षीय पुत्र को गंभीररूप से घायल कर दिया गया था। हत्याकांड के बाद पुलिस पर खुलासे का काफी दबाव था।

ये भी पढ़े: नित्यानंद ने बनाया अपना देश ‘कैलासा’, मंत्रालय के साथ दिखाया झंडा

वहीं खुलासे के लिए पुलिस की 4 टीमें लगातार प्रयास कर रही थी। इसी बीच लोगों के पूछताछ और सर्विलांस की मदद से घटना में नजीरूद्दीन निवासी इब्राहिमपुर थाना मुबारकपुर द्वारा घटना को अंजाम देने की पुष्टि हुई। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को उसके घर जाकर गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने जब पुलिस के सामने खुलासा किया तो अधिकारी भी हैरान रह गये।

ये भी पढ़े: क्या वाकई खत्म होने वाला है अनलिमिटेड का दौर!

आरोपी ने बताया कि वह पहले से ही पूरी तैयारी के साथ मौके पर गया था। इसके लिए उसने सेक्सवर्धक दवाईयां और कंडोम भी लिया था। मृतका का घर निर्जन स्थान पर है वह अपने मंसूबे में सफल हो सकता है। इसलिए वह देर रात वहां गया और घर में घुसकर महिला के साथ दुष्कर्म किया। तभी उसका पति इरफान जग गया तो उस पर ईंट से हमला कर वहीं मार दिया।

बात खुल न जाय इसलिए उसने उसी ईंट से महिला को भी मार दिया। यही नहीं उसने महिला को बेड से उतारकर दोबारा दुष्कर्म किया। इतना ही नहीं दरिंदे आरोपी ने उसकी दस साल की बच्ची को भी नहीं छोड़ा। उसके साथ भी दुष्कर्म किया और उसने वीडियों भी बनायी। इसके बाद वह मृतका के कपड़े को थैली में डालकर खेत में फेक दिया और खुद अपने घर आकर सो गया।

ये भी पढ़े: पति की मौत की खबर सुनते ही पत्नी ने लगाई छलांग

वहीं पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि पुलिस की टीमें लगातार आरोपी को पकड़ने के लिए प्रयास कर रही थी। सिंह ने बताया कि परिजनों ने दूसरे युवक को नामजद किया था। लेकिन पूछताछ के बाद पुलिस को यह यकीन हो गया था नामजद आरोपी ने घटना को अंजाम नहीं दिया है।

सीओ और एसपी सिटी के नेतृत्व में पुलिस की टीमें लगी हुई थी। ग्रामीणों की पूछताछ और सर्विलांस की मदद से जब पूरे सबूत हाथ लगे तो पुलिस की टीम ने उसे उठाया। जिसके बाद परत दर परत घटना का खुलासा हो गया।

ये भी पढ़े: यूपी : पुलिस सेवा केंद्र में मिली युवती की लाश, रेप की आशंका

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com