Sunday - 27 September 2020 - 3:57 PM

अब मुंबई में होगी नाइटलाइफ, 24 घंटे खुलेंगे होटल और मॉल

न्यूज़ डेस्क

मुंबई। अमेरिका- इंग्लैंड की तरह मुंबई में भी नाइटलाइफ शुरू होने वाली है। महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने बुधवार को ‘मुंबई में मॉल, सिनेमाघर और दुकानों को 24 घंटे’ खोलने की नीति को मंजूरी दी। नई नीति 27 जनवरी लागू से होगी।

लंदन की पांच अरब पाउंड की रात की अर्थव्यवस्था को रेखांकित करते हुए पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने मंत्रिमंडल की बैठक के बाद पत्रकारों को बताया कि सरकार के इस फैसले से राजस्व और रोजगार बढ़ाने में मदद मिलेगी।

इस समय मुंबई के सेवा क्षेत्र में पांच लाख लोग काम कर रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि मॉल और खाने-पीने की दुकानों को रात को खोलना अनिवार्य नहीं है। ठाकरे ने कहा ‘जो लोग मानते हैं कि पूरी रात प्रतिष्ठानों को खोले रखने से बेहतर कारोबार होगा, वे ही इसपर अमल करेंगे।’

ये भी पढ़े: UP के नए डीजीपी की खोज में आया नया पेंच

पहले चरण में दुकानों, रेस्तरां, गैर आवासीय इलाकों में स्थित मॉल तथा मिल परिसरों के थियेटर को पूरी रात खोलने की अनुमति होगी। बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स और एनसीपीए के नजदीक नरीमन प्वाइंट की सड़क पर सचल खाने की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जाएगी और खाद्य निरीक्षक उनपर नजर रखेंगे।

ये भी पढ़े: डेमोक्रेसी इंडेक्स की रैंकिंग में भारत को झटका

अगर ठोस कचरा प्रबंधन, आवाज की सीमा और कानून व्यवस्था के नियमों का उल्लंघन हुआ तो, उन पर आजीवन प्रतिबंध का प्रावधान है। लिस पर यह दबाव नहीं होगा कि वे देर रात डेढ़ बजे यह सुनिश्चित करें कि दुकानें और प्रतिष्ठान बंद हैं।

आदित्य ने कहा कि इसके बजाय अब वे कानून व्यवस्था कायम रखने पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे। यह फैसला लेते वक्त आबकारी नियमों को नहीं छुआ गया है और पब और बार पूर्व की तरह रात डेढ़ बजे ही बंद होंगे।

ठाकरे ने कहा ‘लोग अब रात के समय में भी खा सकेंगे, खरीददारी कर सकेंगे और फिल्में देख सकेंगे। मुंबई 24 घंटे और सातों दिन चलती है। यहां लोग रात की पाली में काम करते हैं। पयर्टक भी आते- जाते हैं। लेकिन वे कहां जाए, जिन्हें रात के दस बजे के बाद भूख लगी हो?’

ये भी पढ़े: राम मंदिर ट्रस्ट का माह अंत तक हो सकता है गठन

ठाकरे ने कहा कि मॉल और मिल परिसर में सुरक्षा और सीसीटीवी की व्यवस्था होगी और सभी को लाइसेंस लेना होगा। अगर प्रतिष्ठान अधिक पुलिस सुरक्षा की जरूरत महसूस करेंगे तो उन्हें इसके लिए भुगतान करना होगा।

इस कदम की भाजपा की ओर से की गई आलोचना के बारे में पूछने पर मंत्री ने कहा, ‘महाराष्ट्र विकास अघाडी’ सरकार लोगों की इच्छाओं को पूरा करने के लिए काम कर रही है।

उन्होंने हाल में दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय और जामिया मिल्लिया विश्वविद्यालय में हुई हिंसा का संदर्भ देते हुए कहा, ‘भाजपा युवाओं के खिलाफ है, देखिए वह छात्रों के साथ कैसा व्यवहार कर रही है।’

बता दें कि मुंबई में नाइटलाइफ शुरू करने का प्रस्ताव 2013 में पारित हुआ था, जिले मुंबई पुलिस आयुक्त ने 2015 में मंजूरी दी थी। 2017 में यह प्रस्ताव विधानसभा से भी मंजूरी हो चुका था लेकिन इसे गृह विभाग की मंजूरी की इंतजार था।

ये भी पढ़े: बजट में ये तोहफा दे सकती है केंद्र सरकार

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com