Saturday - 22 January 2022 - 2:18 AM

अखिलेश की साइकिल पर सवार हुए स्वामी प्रसाद, धर्म सिंह सैनी समेत कई विधायक

जुबिली न्यूज डेस्क
पिछले दिनों यूपी के योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य आज आखिरकार अपने समर्थकों के साथ अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार हो ही गए।
स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ कई विधायकों ने समाजवादी पार्टी का दामन थामा। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौजूद रहे।
बीजेपी छोडऩे के बाद शुक्रवार को सपा कार्यालय पर स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ धर्म सिंह सैनी, भगवती सागर, विनय शाक्य, रोशन लाल वर्मा, मुकेश वर्मा, बृजेश कुमार प्रजापति भी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए।
इसके अलावा अपना दल के विधायक अमर सिंह ने भी सपा का दामन थामा।
सपा में शामिल होने से पहले मौर्य ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि 14 जनवरी, मकर संक्रांति, स्वामी का बजा बिगुल क्रांति। बीजेपी का टूटा है भ्रांति, भाजपा अंत का है शंखनादि।
वहीं इससे पहले उन्होंने आरएसएस और बीजेपी पर हमला बोलते हुए भी ट्वीट किया था। स्वामी प्रसाद मौर्य ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि नाग रूपी आरएसएस एवं सांप रूपी भाजपा को स्वामी रूपी नेवला यूपी से खत्म करके ही दम लेगा।

यूपी के प्रतापगढ़ के रहने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य 30 सालों से भी अधिक समय से प्रदेश की राजनीति में सक्रिय है। ओबीसी समुदाय में और खास तौर पर कुशवाहा समुदाय में उनकी अच्छी खासी पकड़ है।

मौर्य ने 1996 में पहली बार बसपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव जीता था। इसके बाद वे 2007 का चुनाव हार गए थे, फिर भी मायावती ने उन्हें अपनी सरकार में मंत्री बनाया।

साल 2012 में मौर्य फिर से बसपा के टिकट पर चुनाव जीते लेकिन उनके बेटे उत्कृष्ट मौर्य और बेटी संघमित्रा मौर्य चुनाव हार गए।

यह भी पढ़ें : भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर भी मिलाने वाले हैं अखिलेश यादव से हाथ

यह भी पढ़ें :  योगी का ‘खिचड़ी दांव’, दलित कार्यकर्ता के घर किया भोजन

अखिलेश यादव के साथ स्वामी प्रसाद मौर्य और रोशनलाल वर्मा

साल 2016 के अंत में मौर्य ने मायावती का साथ छोड़ दिया और बीजेपी में शामिल हो गए। साल 2017 में उन्होंने विधानसभा का चुनाव जीता और योगी सरकार में मंत्री बने।

इतना ही नहीं साल 2019 में उनकी बेटी संघमित्रा मौर्य ने बीजेपी के टिकट पर बदायूं से लोकसभा का चुनाव लड़ा और सपा उम्मीदवार धर्मेंद्र यादव को हराया। हालांकि संघमित्रा मौर्य अभी भी बीजेपी में है।

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफा देने के बाद उनके कई समर्थक विधायकों ने भी बीजेपी छोड़ दिया है। मौर्य के इस्तीफे के बाद बीजेपी विधायक ब्रजेश प्रजापति, विधायक भगवती सागर, विधायक रौशन लाल, विधायक विनय शाक्य, विधायक बाला अवस्थी और विधायक मुकेश वर्मा ने भी इस्तीफा दिया। इतना ही नहीं मौर्य के अलावा दो और मंत्री भी योगी कैबिनेट से इस्तीफा दे चुके हैं।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com