Saturday - 26 September 2020 - 2:20 PM

माल्या- मोदी ही नहीं अब तक 70 और घोटालेबाज भागे हैं विदेश

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय ने बताया है कि कुल 72 भारतीय, जिन पर वित्तीय अनियमित्ता और धांधली के आरोप हैं, अभी विदेश में हैं और उन्हें वापस लाए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, ये आंकड़ा साल 2015 के बाद का है और आरोपियों के खिलाफ जांच चल रही है। विदेश मंत्रालय ने विभिन्न जांच एजेंसियों से मिली सूचना के आधार पर यह जानकारी दी।

ये भी पढ़े: क्यों खास है मोदी का असम दौरा

लोकसभा में एक सवाल के जवाब में विदेश मंत्रालय ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर, रेड कॉर्नर नोटिस और संबंधित देशों से प्रत्यार्पण की अपील की गई हैं।

जरूरी मामलों में Fugitive Economic Offenders Act, 2018 (FEOA) के तहत भी कार्रवाई की गई है। विदेश मंत्रालय ने बताया कि कई मामलों में आरोपियों के प्रत्यर्पण की कोशिशें भी हो रही है लेकिन ये कानूनी तौर पर जटिल होती हैं।

ये भी पढ़े: संबित के ‘अबकि बार 45 पार’ पर लोगों ने कहा-मोटा भाई ने EVM…

सरकार के बताया कि वित्तीय धांधली कर विदेश भागने वाले आरोपियों में पुष्पेष बैद, आशीष जोबनपुत्रा, विजय माल्या, सन्नी कालरा, संजय कालरा, एस.के. कालरा, आरती कालरा, वर्षा कालरा, जतिन मेहता, उमेश पारेख, कमलेश पारेख, निलेश पारेख, एकलव्य गर्ग, विनय मित्तल, नीरव मोदी, नीशाल मोदी का नाम शामिल।

इनके अलावा मेहुल चोकसी, सब्य सेठ, राजीव गोयल, अल्का गोयल, ललित मोदी, नितिन जयंतीलाल संदेसारा, दीप्तीबेन चेतन कुमार संदेसारा, रितेश जैन, हितेश एन पटेल, मयूरीबेन पटेल और प्रीति आशीष जोबनपुत्रा का नाम भी शामिल है।

विजय माल्या भारत प्रत्यर्पण के लिए फिलहाल ब्रिटेन में कानूनी कार्रवाई का सामना कर रहे हैं। वहीं नीरव मोदी ब्रिटेन की जेल में बंद हैं। हाल ही में ब्रिटेन की अदालत ने विजय माल्या की फोर्स इंडिया के स्वामित्व वाली लग्जरी यॉट को बेचने का आदेश दिया था।

ये भी पढ़े: मोदी का भाषण और उमर-मुफ्ती पर पब्लिक सेफ्टी एक्ट का लगना

यॉट को बेचकर मिली राशि को कतर नेशनल बैंक को भुगतान किया जाएगा, ताकि बैंक उसके पास रखी बैंक गारंटी को भुना सके। विजय माल्या और उसका बेटा सिद्धार्थ माल्या इस यॉट के मालिक हैं।

बीते साल 4 जनवरी को तत्कालीन वित्त राज्य मंत्री एसपी शुक्ला ने लोकसभा में दी जानकारी में बताया था कि बीते 5 सालों के दौरान करीब 27 कारोबारी और आर्थिक अनियमित्ता के आरोपी देश छोड़कर भाग चुके हैं।

बता दें कि विजय माल्या पर देश के विभिन्न बैंकों का करीब 9 हजार करोड़ रुपए बकाया है। वहीं नीरव मोदी पीएनबी में करीब 13 हजार करोड़ रुपए के घोटाले में आरोपी है।

ये भी पढ़े: अब इस वजह से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगा मुस्लिम पक्ष

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com