Wednesday - 28 September 2022 - 8:48 AM

प्राइवेट वीड‍ियो कैसे होते हैं लीक जानें, ऐसे करें बचाव

जुबिली न्यूज डेस्क

आए दिन प्राइवेट वीडियो या MMS लीक होने की खबरें सामने आती रहती हैं. ऐसी ही घटना हाल ही में मोहाली की प्राइवेट यूनिवर्सिटी से सामने आई थी, जहां एक छात्रा ने अपने साथ रहने वाली लड़कियों की वीडियो क्लिप रिकॉर्ड करके अपने बॉयफ्रेंड को भेज दी थीं.छात्राओं के वीडियो लीक होने के बाद देशभर में इसकी चर्चा हो रही है. हालांकि, मामले में पुलिस ने कई आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन कई लोगों के मन में अभी भी इसको लेकर सवाल है कि आखिरकार प्राइवेट वीडियो या MMS Leak कैसे होते हैं….

ऐप्स से होते हैं वीडियो लीक

दरअसल आज कल हर काम के लिए लोग ऐप का इस्तेमाल करते है. गूगल पर कई ऐसे ऐप्स होते हैं जिसमें आपको कैशबैक या फिर अन्य ऑफर दिए जाते हैं. अक्सर यूजर्स लालच में आकर इन ऐप्स को अपने फोन में डाउनलोड कर लेते हैं. इतना ही नहीं यूजर्स उन ऐप्स के बारे में पढ़े बिना ही उसको एक्सेस दे देते हैं. इस तरह ऐप्स को आपको फोटो और वीडियो तक एक्सेस मिल जाता है. ऐसे में किसी भी ऐप को गैलरी का एक्सेस देने से पहले आपको सावधानी बरतनी चाहिए.

पुराना फोन बेचने पर 

कई बार हम अपना पुराना फोन किसी को बेच देते हैं . फोन बेचते वक्त हम अपना डेटा डिलीट नहीं करते हैं या फिर फोन को रिसेट नहीं करते हैं, जिससे हमारा सभी डेटा, वीडियो और फोटो फोन खरीदने वाले शख्स के पास चले जाते हैं. ऐसी स्थिति में प्राइवेट वीडियो और फोटो लीक हो सकते हैं.

क्लाउड से लीक हो सकता है डेटा

अक्सर हम अपने डोक्यूमेंट, वीडियो और फोटो जीमेल और ड्रॉपबॉक्स जैसे क्लाउड पर सेव करते हैं. यहां से सबसे अधिक वीडियो लीक होते हैं. साथ ही कई बार हम आसान पासवर्ड रखते हैं ताकि हम उसे आसानी से याद कर सकें, लेकिन इस तरह के पासवर्ड को आसानी हैक किया जा सकता है. जिससे हमारा डेटा लीक होना का खतरा बढ़ जाता है.

कैसे पता करें डेटा हो रहा है चोरी

जब कोई शख्स अपके मोबाइल से डेटा चोरी करता है, तो आपके मोबाइल से डेटा जल्दी Exhaust होने लगता है. इसके अलावा आपकी बैटरी तेजी से खत्म होने लगती है. साथ ही आपको फोन भी स्लो हो जाएगा और बार-बार आपका फ्रंट कैमरा अपने आप ऑन होने लगेगा. इसके अलावा कई बार आपका फोन देर से रिस्पॉन्स करने लगता है.

ये भी पढ़ें-वाराणसी से लेकर इस शेहर के बीच शुरू होगी क्रूज सेवा, जानें इसकी खूबियां

कैसे करें बचाव

गूगल से कोई भी ऐप डाउनलोड करते वक्त उसके बारे में अच्छे से पढ़ लें. साथ ही किसी भी ऐप को गैलरी का एक्सेस देने से पहले सावधानी बरतें. फोन को रिसेट कर दें. साथ ही जीमेल और ड्रॉपबॉक्स जैसे क्लाउड पर डेटा सेव करने से बचें. इसके अलावा फोन का पासवर्ड भी किसी को नहीं बताना चाहिए.

ये भी पढ़ें-कस्टमर ने 1 हजार का खाना खाकर महिला वेटर को  दिए ढाई लाख का टिप, फिर जो हुआ..

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com