Saturday - 3 December 2022 - 7:09 PM

कानपुर: छात्राओं ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप, फॉरेंसिक जांच से सामने आएगा सच

जुबिली न्यूज डेस्क

कानपुर के साईं निवास गर्ल्स हॉस्टल काकादेव के तुलसी नगर में स्थित है। छात्राओं के अश्लील वीडियो बनाने का मामला सामने आने पर हड़कंप मच गया है। हॉस्‍टल में तीन बाथरूम हैं और सभी के दरवाजे टूटे हैं। कुछ में लोहे के दरवाजे हैं तो वो गल चुके हैं। पीड़ित छात्राओं का आरोप है कि सात साल से हॉस्‍टल में काम कर रहा कर्मचारी ऋषि यहां नहाती छात्राओं के वीडियो बनाता था। छात्राओं ने हॉस्टल वार्डेन सीमा पाल और संचालक पर भी गंभीर आरोप लगाए। गुरुवार को छात्राओं के हंगामे के बाद पुलिस ने आरोपी कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया था।

छात्राओं का कहना है टूटे दरवाजों वाले बाथरूम से नहाने में दिक्कत होती थी पर किसी ने सुनी ही नहीं। इसकी वार्डेन और हॉस्पिटल संचालक से शिकायत भी कई बार की पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। बाथरूम के दरवाजे सही होते तो ऐसी शर्मनाक घटना ही नहीं होती।

पुलिस पर वीडियो डिलीट करने का आरोप 

कंट्रोल रूम की सूचना पर मौके पर पहुंचे पीआरवी जवानों पर भी छात्राओं ने आरोप लगाए। बताया कि इन पुलिसकर्मियों ने आरोपित ऋषि का मोबाइल चेक किया था जिसमें अश्लील वीडियो मोबाइल गैलरी में थे। छात्राओं का दावा है कि उन्होंने यह वीडियो देखे भी थे। मौके का फायदा उठाकर पुलिसकर्मियों की मिलीभगत से आरोपित ने अश्लील वीडियो डिलीट कर दिए। पीड़ित छात्राओं ने हॉस्टल के बाद रावतपुर और काकादेव थाने में जमकर हंगामा किया। रावतपुर थाने पहुंचीं छात्राओं को पुलिस ने मोबाइल में वीडियो न होने की बात कही जिस पर वे भड़क उठीं।

बिना बताए कमरों में घुस जाता था ऋषि

ऋषि हॉस्टल में सफाई का काम भी करता था। छात्राओं का आरोप है कि वह इसकी आड़ में बिना बताए कमरों में भी घुस जाता था। कई बार आपत्ति भी दर्ज कराई थी लेकिन हॉस्टल संचालक और वार्डेन ने ध्यान नहीं दिया। छात्राओं ने वार्डेन और संचालक पर धमकाने का आरोप भी लगाया है।

गर्ल्‍स हॉस्‍टल में वार्डेन छोड़ सभी कर्मचारी पुरुष

छात्राओं ने आरोप लगाया कि गर्ल्स हॉस्टल में वार्डेन समेत सभी कर्मचारी महिला होनी चाहिए लेकिन महिला वार्डेन को छोड़कर सभी पुरुष कर्मचारी काम करते थे। वार्डेन भी सुबह 11 से लेकर शाम 7 बजे तक की आठ घंटे की ड्यूटी पर ही रहती थी। इसके बाद पुरुष कर्मचारी ही तैनात रहते हैं।

ये भी पढ़ें-क्या मल्लिकार्जुन खड़गे बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष ?

गुस्‍से में हैं छात्राएं

छात्राओं ने गुरुवार को थाने में जमकर हंगामा किया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस का कहना है कि उसके मोबाइल को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जा रहा है।

ये भी पढ़ें-पीएम मोदी ने तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com