Saturday - 26 September 2020 - 3:05 PM

बाल-बाल बचे वायु सेनाध्यक्ष आरके भदौरिया!

न्यूज डेस्क

भारतीय वायुसेना अध्यक्ष एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया अमेरिका में हुए एक हमले में बाल-बाल बच गए। अमेरिका के ऐतिहासिक पर्ल हार्बर मिलिट्री बेस में एक बंदूकधारी ने खुलेआम फायरिंग कर दहशत फैला दिया। उस वक्त भदौरिया और उनकी टीम भी वहां मौजूद थी।

गुरुवार (5 दिसंबर) को अमेरिका के पर्ल हार्बर मिलिट्री बेस में एक बंदूकधारी ने खुलेआम फायरिंग शुरु कर दी। इस फायरिंग में तीन लोगों को गोली लगी, जिसमें दो लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। जब यह फायरिंग हुई तो मौके पर भारतीय वायुसेना अध्यक्ष एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया अपनी टीम के साथ मौजूद थे। फिलहाल इस हमले में भारतीय वायुसेना की टीम बाल-बाल बच गई। ये लोग पूरी तरह सुरक्षित है।

यह भी पढ़ें :  बहू-दामाद पर भी होगी बुजुर्गों की देखभाल की जिम्मेदारी

यह भी पढ़ें : रिलायंस जियो ने जारी किये All In One प्लान

मालूम हो कि भारतीय वायुसेना अध्यक्ष इस दिन हवाई में Pacific Air Force Chiefs Conference (PACS-2019) में शिरकत करने पहुंचे थे। हमले से ठीक पहले वायुसेना की टीम यूएस मिलिट्री बेस का दौरा कर रही थी और क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर बातचीत कर रही थी। ठीक कुछ ही देर बाद यूएस नेवी के एक सैनिक ने पर्ल हार्बर में गोलीबारी शुरू कर दी और तीन लोगों को गोली मारने के बाद उसने खुद को भी गोली से उड़ा लिया।

इस घटना के बाद अधिकारियों ने ट्विटर पर बताया कि गोलीबारी में घायल हुए सभी लोग आम नागरिक थे और वो सभी यहां रक्षा मंत्रालय के लिए काम करते थे। हालांकि घायलों की स्थिति के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है।

एनबीसी की सहयोगी ‘Hawaii News Now’ ने एक प्रवक्ता के हवाले से कहा कि ‘हमले में 3 लोगों को गोली लगी है। यह हमला Pearl Harbor Naval Shipyard के Drydock 2 पर हुआ। हमले के बाद यहां आने-जाने वाले दरवाजों को एहतियात के तौर पर बंद कर दिया गया है।’

एक प्रत्यक्षदर्शी ने  से बातचीत करते हुए कहा कि उसने उस बंदूकधारी को खुद को गोली मारते हुए देखा था।

पर्ल हार्बर और हिकम के ज्वाइंट बेस ने ट्वीट कर बताया, “सुरक्षाबलों ने पर्ल हार्बर के नेवल शिपयार्ड पर हुई गोलीबारी का जवाब दिया। ये घटना दोपहर के ढाई बजे के करीब हुई। सुरक्षा के मद्देनजर पर्ल हार्बर और हिकम के ज्वाइंट बेस के गेट बंद हैं। बता दें शिपयार्ड पर्ल हार्बर और हिकम के ज्वाइंट बेस का हिस्सा है, जो होनोलुलु से लगा हुआ है।

यह भी पढ़ें : ‘मैं लहसुन-प्याज नहीं खाती, नहीं पड़ता मुझपर कोई फर्क’

यह भी पढ़ें : योगी का पुराना नाम लेना सपा नेता को पड़ा महंगा

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com