Sunday - 11 April 2021 - 3:58 AM

तो प्रेमी बेच रहा था प्रेमिका के वीडियो, पकड़ा गया तो बोला…

जुबिली न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक बड़े मामले का खुलासा करते हुए पश्चिम बंगाल से एक शख्स को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने रिवेंज पोर्न के मामले में आरोपी को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार युवक पर अपनी पूर्व प्रेमिका के अश्लील वीडियो व फोटो सोशल साइट्स पर अपलोड करने का आरोप था। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उससे पूछताछ में लगी हुई है।

ये भी पढ़े: …तो इलाज के लिए हरियाणा जाएंगे अरविंद केजरीवाल !

ये भी पढ़े: इतने झटके ? दिल्ली में जमीन के नीचे आखिर क्या हो रहा है ?

मामला उत्तर प्रदेश के नोएडा का है। यहां रहने वाली एक लडकी से पश्चिम बंगाल के एक युवक ने पहले दोस्ती की। फिर धीरे- धीरे ये दोस्ती प्यार में बदली और बाद में मामला लिव-इन-रिलेशनशिप तक पहुंच गयी।

दोनों एक दूसरे के साथ तकरीबन 4 साल तक लिव-इन-रिलेशनशिप में रहे। उसके बाद किसी बात को लेकर उनके बीच झगड़ा हुआ और दोनों का सम्बन्ध उसी समय से खत्म हो गया।

ये भी पढ़े: इस वजह से मॉल की दुकानों के शटर नहीं खुले

ये भी पढ़े: शिक्षक भर्ती मामला: IPS अमिताभ को धमकी देने वाला कौन है ताकतवर चेहरा?

एक दिन लड़की ने देखा कि सोशल साइट्स फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम और कई पोर्न साइट्स पर उसका अश्लील वीडियो अपलोड किया जा रहा है और वायरल किया जा रहा है। इतना ही नहीं कई वेबसाइट पर पेटीएम के जरिये फोटो और वीडियो बेची जा रही है।

अपने अश्लील वीडियो सोशल साइट्स पर देखते ही लड़की के होश उड़ गए। उसने तत्काल इसकी शिकायत नोएडा पुलिस से की। पुलिस ने साइबर सेल के माध्यम से लड़की के पोर्न वीडियो अपलोड कर उसे बेचने वाले युवक को ट्रेस करना शुरू किया।

इस दौरान युवक की लोकेशन पश्चिम बंगाल में ट्रेस हुई। नोएडा पुलिस ने जाल बिछाया और युवक पुलिस के हत्थे चढ़ गया। जिसके बाद उस पूरे मामले का खुलासा हुआ। दरअसल युवक उस लडकी के साथ कई साल रिलेशनशिप में था। लेकिन उसके बाद उसका लड़की से ब्रेकअप हो गया। बदला लेने के लिए उसने लड़की के पोर्न वीडियो सोशल साइट्स पर बेचना शुरू कर दिया।

ये भी पढ़े: प्रियंका ने शिक्षक भर्ती को बताया UP का ‘व्यापमं घोटाला’

ये भी पढ़े: शिवपाल ने अखिलेश को क्यों कहा थैंक यू

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com