Friday - 5 June 2020 - 6:03 PM

बिहार की इस बेटी को आखिर क्यों मदद पहुंचाएंगे अखिलेश

प्रमुख संवाददाता

लखनऊ. लॉक डाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की तकलीफें पूरा देश देख रहा है. परिवहन के सभी साधन बंद हैं तो हज़ारों किलोमीटर के सफ़र पर लोग पैदल ही निकल पड़े हैं. इस सफ़र में कोई कंधे पर अपनी बूढ़ी माँ को बिठाये है तो कोई श्रवण कुमार की तरह से कांवर बनाकर अपने माँ-बाप दोनों को लेकर घर जा रहा है.

मुश्किल सफ़र को तय करते बहादुरों की फेहरिस्त में अब दरभंगा (बिहार) की ज्योति का नाम भी शामिल हो गया है. ज्योति अपने घायल पिता को साइकिल पर बिठाकर गुरुग्राम से दरभंगा के 1200 किलोमीटर के सफ़र को पूरा कर चुकी है. ज्योति की हिम्मत को सलाम करते हुए उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उसे एक लाख रुपये का इनाम देने का एलान किया है.

ज्योति सिर्फ 15 साल की है. उसके पिता मोहन पासवान गुरुग्राम में ई-रिक्शा चलाने का काम करते हैं. कुछ दिन पहले हुई दुर्घटना में वह घायल हो गए थे. लॉक डाउन में कमाई के साधन तो बंद थे ही इलाज कराना भी मुश्किल हो गया था. बस और ट्रेन भी बंद होने से घर जाना भी मुश्किल था. ऐसे में ज्योति ने एक हिम्मत वाला फैसला लिया और सायकिल पर पिता को बिठाकर घर जाने का फैसला किया.

यह भी पढ़ें : सीएम योगी को मिली बम से उड़ा देने की धमकी, एफआईआर दर्ज

यह भी पढ़ें : दूसरे फेज में पहुंची बस पॉलिटिक्‍स, सचिन पायलट ने योगी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

यह भी पढ़ें : गोरखनाथ मंदिर की 200 दुकानों पर क्‍यों चला बुल्डोजर

यह भी पढ़ें : राजीव गांधी की मौत की खबर पर क्या था प्रियंका का रिएक्शन !

1200 किलोमीटर का सफ़र था. उसने रोजाना 100 से 150 किलोमीटर सायकिल चलाई और एक सप्ताह में सुरक्षित अपने घर पहुँच गई. ज्योति ने यह कारनामा कर दिखाया तो हर तरफ उसकी हिम्मत की चर्चा शुरू हो गई. हर किसी ने उसे सराहा. चर्चा यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव तक पहुँची तो उन्होंने भी उसके हौंसले को सलाम किया. अखिलेश यादव ने ट्वीटर के माध्यम से एलान किया कि उसके साहस का अभिनंदन करते हुए हम उस तक एक लाख रुपये की मदद पहुंचाएंगे.

साइकिलिंग महासंघ ज्योति को देगा ट्रेनिंग 

वहीं अब उसे भारतीय साइकिलिंग महासंघ ने भी ट्रायल का मौका देने की बात कही है. महासंघ के निदेशक वीएन सिंह ने ज्योति को क्षमतावान करार देते हुए कहा कि महासंघ उसे ट्रायल का मौका देगा और अगर वह सीएफआई के मानकों पर थोड़ी भी खरी उतरती हैं तो उसे विशेष ट्रेनिंग और कोचिंग मुहैया कराई जाएगी.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com